मीडिया और करप्शन-1: “मलिक साहब अच्छे इंसान हैं, बुरी तो शराब है”

पिछले साल मेरी मुलाक़ात एक ‘मलिक साहब’ से हुई और उनसे मिलने के बाद मुझे ये असल में एहसास हुआ

Read more

नए अंदाज़ में हो रही है “अमोल सरोज स्टेटस वाला” की मार्केटिंग

हिसार: हरियाणा के रहने वाले लेखक अमोल सरोज की पहली किताब बाज़ार में आने वाली है. इस किताब का नाम

Read more

अहमद फ़राज़ की ग़ज़ल: “बिस्मिल हो तो क़ातिल को दुआ क्यूँ नहीं देते”

ख़ामोश हो क्यूँ दाद-ए-ज़फ़ा क्यूँ नहीं देते बिस्मिल हो तो क़ातिल को दुआ क्यूँ नहीं देते वहशत  का सबब रोज़न-ए-ज़िन्दाँ तो नहीं

Read more