दीपावली पर बन रहा है महासंयोग, चार राशियों के खुलेंगे भाग्य

October 22, 2018 by No Comments

हिन्दू धर्म में ज्योतिष शास्त्र का बहुत महत्व होता है| ज्योतिष शास्त्र में कुल 12 राशियों का उल्लेख किया गया हैं| ये राशियाँ ग्रह नक्षत्रो के हिसाब से हमे फल देती हैं| हमारे जीवन पर नक्षत्रों का बहुत गहरा प्रभाव पड़ता है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार हमारे अच्छे बुरे समय का ज्ञान हमे होता है.

आज हम आपको बताने जा रहे है कि इस दीपावली पर एक महासंयोग बन रहा है जिससे इन चार राशियो की बंद किस्मत का ताला खुल जायेगा. आप सभी जानते है कि हमारे अच्छे बुरे समय की वजह ग्रहों की चाल होती है. ज्योतिष शास्त्र के अनुसार ग्रह ही होते है जो हमारे जीवन के अच्छे और बुरे का निर्धारण करते है.

दरअसल ज्योतिष के जानकार बताते है की ग्रहों की चाल परिवर्तन के फलस्वरूप ऐसे संयोग बन रहे है की २२से 28 अक्टूबर के बीच कुछ राशि वालो की किस्मत चमकने वाली है जिससे इनको कई बड़े लाभ होंगे,इन राशियों के बारे में हम आपको नीचे बता रहे है !

ऐसा संयोग बन रहा है की माँ लक्ष्मी की कृपा कुल 1000 साल बाद कुछ राशियों पर होने वाली है जिससे इनके जीवन के सभी सभी दुखो से छुटकारा मिलेगा और खुशियाँ ही खुशियाँ इनके जीवन में होंगी ।

सिंह और तुला राशि: ज्योतिष शास्त्र के अनुसार सिंह और तुला राशि वालो के भाग्य भी उदय होने वाला है. इन राशि के लोगो ने जो सोचा भी नही होगा उतना उन्हें मिलेगा. इन राशियो के विद्यार्थी भी अपनी सभी परीक्षाओं में उत्तीर्ण होंगे. आपको खोया हुआ धन मिल सकता है. घर- परिवार में शान्ति का वातावरण रहेगा. आपके शत्रु आपसे डर के रहेंगे.


कुम्भ: इस राशि के लोगो का सोया हुआ भाग्य जाग्रत होने वाला है. नौकरी करने वाले लोगो को प्रोमोशन मिल सकता है औऱ जिन्हें नौकरी की तलाश है उन्हें नौकरी मिल सकती है. आपके सभी कार्य सफल होंगे. आपको पारिवारिक खुशी भी मिलेगी. पैतृक संपत्ति मिलने के भी योग है. आपका समाज मे मान सम्मान बढेगा.

मिथुन राशि: मिथुन राशि के लोगो का इस दीवाली भाग्य जाग्रत होने वाला है. इस राशि वाले लोगो को कही से अचानक से धन लाभ होने के योग है. व्यापार में लाभ होगा और धन के आने के मार्ग खुलेंगे. आपके जो कार्य रुके हुए है वो पूर्ण हो जाएंगे. नए कार्य मे उन्नति होगी. चारो तरफ से खुशियां आएंगी. आपका मन प्रसन्न रहेगा.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *