मोसुल के पुनर्निर्माण में 100 बिलियन डॉलर की है ज़रुरत

नई दिल्ली: ISIS के क़ब्ज़े से मोसुल शहर को पूरी तरह से छुड़ा लिया गया है. ईराक़ के सबसे ख़ास शहरों में से एक मोसुल को तीन साल पहले आतंकी संघठन ISIS ने अपने क़ब्ज़े में ले लिया था. कड़े संघर्ष के बाद ईराक़ी फ़ौज ने मोसुल को ISIS से वापिस जीत लिया है.

इसके बावजूद भी जो समस्या है वो है शहर के पुनर्निर्माण की. 60-70% ध्वस्त हो चुके शहर को ठीक करने के लिए 100 बिलियन डॉलर की ज़रुरत बतायी जा रही है.

भारत में ईराक़ के एम्बेसडर फखरी अल इस्सा ने बताया कि ये अकेले ईराक़ के लिए करना संभव नहीं है. उन्होंने कहा कि और देशों से मदद का इन्तिज़ार है.

उन्होंने कहा कि भारत मोसुल के पुनर्निर्माण में ही नहीं बल्कि उन सभी इलाक़ों में जहां ISIS ने नुक़सान पहुंचाया उसमें मदद कर सकता है.

फखरी ने बताया कि अगले हफ़्ते ईराक़ी विदेश मंत्री आयेंगे जो भारतीय सरकार से इस मुद्दे पर चर्चा करेंगे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.