16 अक्टूबर का राशिफल: भगवान की कृपा से इन राशियों का शुभ समय तो इनको रहना होगा सावधान

October 16, 2018 by No Comments

हम सभी इस बात को जानते हैं कि इंसान के कामयाब होने और न कामयाब हो पाने के पीछे उसके ग्रहों का प्रभाव भी होता है. ज्योतिष की मानें तो ग्रहों के प्रभाव हमारे जीवन में सदा ही रहते हैं जिनकी वजह से हम कभी अच्छा तो कभी कम अच्छा समय महसूस करते हैं. रोज़ की तरह हम आज भी राशिफल लेकर आ गए हैं. आज यानी 16 अक्‍टूबर 2018 का राशिफल कुछ इस प्रकार से है.

मेष (Aries): इस समय आपको थोड़ी सावधानी दिखाने की ज़रूरत है. लोगों से मिलते जुतले रहिये लेकिन कुछ भी बिना वजह बोलने की ज़रूरत नहीं है. धार्मिक किर्याओं से जुड़िये. काम में व्यस्तता रहेगी और किसी न किसी तरह आपका पैसा भी ख़र्च होगा. अपनी शारीरिक ताक़त को बढाने का समय है. मानसिक रूप से संतुष्ट नहीं रह पाने के कारण कुछ मन-मुटाव भी हो सकता है. ये समय आपके लिए थोड़ा तनाव का है.

वृषभ (Taurus): आपके लिए आज का दिन अच्छा होने की उम्मीद है. गणेशजी ऐसे संकेत दे रहे हैं जिनसे आपको बड़े लाभ हो सकते हैं. लोगों से मिलते रहिये लेकिन अपने समय का ध्यान रखिये. समय नष्ट करने की वजह से आपका ध्यान भटक सकता है. आज का दिन आपके लिए उमंगों भरा हो सकता है. व्यवसाय के क्षेत्र में आपको बड़े लाभ हो सकते हैं. भगवान् की अराधना करते रहिये, भिखारी को भीख ज़रूर दें.

मिथुन (Gemini): आज का दिन आपके लिए अच्छा होने वाला है. इस दिन आपको ख़ुशी मिलेगी. धार्मिक चीज़ों में मन लगा रहेगा. संबंधों में आ रही समस्याएँ दूर हो जाएँगी. अपनी बातों को लोगों के सामने रखते बनेगा. मानसिक रूप से आप बेहतर स्थिति में आएँगे. हर काम में सफलता मिलने की उम्मीद है लेकिन आपके लिए बहुत ज़रूरी है कि आप अपने से बड़ों का आदर करें.


कर्क (Cancer): अगर आप व्यापार से जुड़े हैं तो आपको बड़े लाभ हो सकते हैं. कार्य के क्षेत्र में बड़ी वृद्धि हो सकती है. माता पिता से बात करें और उनका आशीर्वाद लें. धार्मिक कार्य करे.आपकी कार्यसफलता के कारण उपरी अधिकारी आप पर प्रसन्न रहेंगे, व्यवसाय में पदोन्नति के भी योग है।


सिंह (Leo): आपको आज के दिन थोड़ा संयम रखने की ज़रूरत है, आपकी बात से किसी को ठेस पहुँच सकती है. अपने काम को अपने हाथ में लें, आपके हाथ से काम निकल गया तो काम बिगड़ सकता है. समय पर भोजन करें. गणेश जी सलाह देते हैं कि परिवार के लोगों से अधिक से अधिक बात करिए और उन्हें सुनिए. माता-पिता की सेवा करें.


कन्या (Virgo): आज का दिन अच्छा रहेगा. आप लोगों से मिल कर ख़ुश होंगे. जीवन में नए तरह की ख़ुशियाँ आएँगी. शारीरिक और मानसिक परेशानी नहीं होगी. काम को समय पर पूरा कर सकेंगे और मान-सम्मान में वृद्धि हो सकती है. परिवार में मांगलिक प्रसंग बनेंगे. ग़रीबों को हो सके तो भोजन कराइए, भोजन बासी नहीं होना चाहिए.


तुला (Libra): अपने ग़ुस्से पर क़ाबू पाइए वरना ये आपके लिए मुश्किल स्थिति लाएगा. स्वास्थ कुछ ठीक तो कुछ गड़बड़ रहेगा. किसी धार्मिक स्थल अथवा मांगलिक प्रसंग में उपस्थित रहने का आमंत्रण मिलेगा, क्रोध पर संयम न रखने से आप के कार्य और सम्बंध भी बिगड़ने की संभावना है, मानसिकरुप से व्यग्रता और बेचैनी के कारण किसी कार्य में आपका मन न लगे यह हो सकता है।


वृश्चिक (Scorpio): आज के दिन किसी भी नए काम को न शुरू करें, ये आपके लिए अच्छा नहीं होने वाला है. अपने खाने पीने में चीज़ों का ध्यान रखें. भोजन समय पर लें. मानसिक रूप से ख़ुद को मज़बूत करें. समय कठिन है. अपने कार्य की गंभीरता को समझें.


धनु (Sagittarius): आज का दिन आनंद-प्रमोद में बीतेगा ऐसा गणेशजी कहते हैं. शरीर और मानसिक रूप से संतुष्ट नज़र आयेंगे. कई तरह की स्वादिष्ट चीज़ों का स्वाद ले सकेंगे. मान-सम्मान और लोकप्रियता बढ़ सकती है लेकिन कुछ भी क्रिएटिव आज आपके लिए करना मुश्किल होगा.


मकर (Capricorn): अगर आप व्यवसायी हैं तो आपके लिए ये दिन शुभ होगा. गणेश जी कहते हैं कि कार्यालय में सहकार्यकरों का सहकार भी प्राप्त होगा, प्रतिस्पर्धियों पर विजय मिलेगा, कार्य में यश प्राप्त होगा, खर्च की मात्रा अधिक रहेगी, परिवारजन आपके साथ आज आनंदपूर्वक समय बिताएँगे, मानसिकरुप से भी आप संपूर्ण स्वस्थ अनुभव करेंगे।


कुंभ (Aquarius): आज सृजनात्मकता और कला संबंधी प्रवृत्तियों के लिए दिन श्रेष्ठ है. शारीरिक स्वास्थ्य ठीक रहेगा. क्रोध पर संयम रक्खें, ये आपके लिए नुक़सानदायक हो सकता है. विद्यार्थियों के लिए समय पढ़ाई का है, मन भी लगेगा और विषय समझ पायेंगे.


मीन (Pisces): आज के दिन आपको कई तरह की मुश्किलों वाला होगा. गणेश जी कहते हैं कि आपको चिन्ताएं बनी रहेंगी.माता-पिता के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी,स्थावर संपत्ति के कार्य में सावधानी बरतें, शारीरिक स्फूर्ति का आज अभाव रहेगा और मानसिकरुप से भी चिंता बनी रहेगी, स्वास्थ्य खराब होगा,पारिवारिक सदस्यों के साथ अनबन होने से कुटुंब में अशांति रहेगी,पत्नी के साथ कलह का प्रसंग बन सकता है अथवा तो अनबन हो सकती है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *