आजकल लोग क्यों परेशान रहते है? परेशानी दूर करने के लिए ये अमल करे

January 5, 2019 by No Comments

दोस्तों अस्सलाम वालेकुम रहमतुल्लाह व बरकातहू दोस्तों एक बादशाह ने एक बुजुर्ग से कहा कि मैं अपनी आधी सल्तनत आपको तोहफे में देना चाहता हूं तो दोस्तों उन बुजुर्ग ने कहा कि मेरी नजर में तेरी इस सल्तनत की कीमत मच्छर के पर के बराबर भी नहीं है उन्होंने कहा कि मेरे पास जो नेमाते है जो अल्लाह ने मुझे बिना किसी मेहनत के दिया है वह नेमत तेरी इस सल्तनत से ज्यादा अहमियत रखती हैं.
बादशाह बड़ा हैरान हुआ और सोचने लगा कि यार यह देखने में बहुत गरीब सा लगता है और कपड़े भी फटे पुराने पहने हुए हैं और इसके पास इतनी दौलत है और इतना कुछ किसके पास है जो मेरी प्रॉपर्टी से भी बहुत ज्यादा है फिर बादशाह ने उन्हें बुलाया और उनसे कहने लगा कि भाई आप शक्ल से नहीं लगते कितने मालदार हैं और उसने बुजुर्ग से पूछा कि आपने जो बताया कि आपके पास इतना पैसा और इतने माल की चीजें हैं तो आप ने कहां रखा है तो बुजुर्ग ने सोचा कि अगर इसको ऐसे बताऊंगा तू समझ में नहीं आएगा इसे मिसाल देख कर बताना पड़ेगा.

google


दोस्तों मौलाना तारिक मसूद साहब कहते हैं कि लोग मुझसे यह कहते हैं कि बयान में कुरान हदीस की बातें कम होती है और मिसाले ज्यादा दी जाती है तो मैं उसे यह कहता हूं कि खुद अल्लाह के नबी ने कुरान और हदीस में लोगों की मिसाल दी है और मच्छर की मिसाल भी है कुरान और हदीस को पढ़ना अलग है और उसको समझाना उसको डिफाइन करना अलग इसके लिए मिसाल देना पड़ता है तो उन्होंने कहाकि बादशाह सलामत आप फ़र्ज़ कीजिये कि आपको प्यास लग रही है.
एक प्याला पानी आपके सामने रखा हुआ है लेकिन आपको ऐसी बीमारी लग गई है कि जब आप हो पानी पीते हैं तो आपको उल्टी हो जाती है और पानी बाहर आ जाता है और आपने पूरी एड़ी चोटी का जोर लगा लिया लेकिन वह पानी हलक में घुसने को तैयार नहीं है तू बादशाह सलामत आप क्या करोगे तो बादशाह ने कहा कि मैं इलाज करूंगा की उल्टियां रुक जाएं उसने कहा कि सब कुछ करके देख लिया लेकिन फायदा नहीं हो रहा बुजुर्ग ने कहा कि फिर एक हसीन आता है.

वह कहता है कि मैं आपका इलाज गारंटी के साथ करूंगा और आप को ठीक कर दूंगा लेकिन शर्त यह है कि आपको आधी सल्तनत मुझे देना पड़ेगा और इसके बगैर मैं आपका इलाज नहीं करूंगा चाहे मेरी गर्दन उड़ा दो और इलाज शर्तिया है तो अगर इलाज सही नहीं हुआ तो मेरी गर्दन उड़ा देना बुजुर्ग ने कहा कि अगर इस तरह से कोई हकीम आएगा और आपकी आधी सल्तनत मांगेगा तो क्या आप भी देंगे बादशाह ने कहा देनी ही क्योंकि उस सल्तनत का मैं क्या करूंगा.
जब मेरे हलक से पानी नहीं उतरेगा वैसे भी मैं मर जाऊंगा और वह सल्तनत पड़ी रह जाएगी तो उन्होंने कहा कि चलो आपने उसको आधी सल्तनत दी और उसने कोई ऐसी दवा खिलाई अब पानी आपकी हलक से नीचे उतर गया अब आप का पेशाब बंद हो गया अब वह पानी आपकी बॉडी से पेशाब पनकी नहीं निकल रहा तो अब आप क्या करोगे बादशाह ने कहा कि इलाज करूंगा बुजुर्ग ने कहा कि इलाज कर कर के थक गए लेकिन वह पेशाब नहीं निकल रहा फिर वहीं हकीम आया और कहने लगा कि अभी जो सल्तनत बाकी है.

google


वह भी दोगे तो इलाज कर दूंगा तो आप क्या करोगे बादशाह ने कहा कि मैं क्या करूंगा आखिर पेशाब की तकलीफ से तो मर ही जाऊंगा तो इससे बेहतर है कि हम गरीब बन कर जिंदा रहूं बादशाह ने कहा कि अपनी आधी सल्तनत थी उसको दे दूंगा 2 बुजुर्ग ने कहा कि ही है तेरी सल्तनत की औकात एक प्याला पानी और एक प्याला पेशाब के बराबर मेरा रब मुझे रोजाना दर्जनों गिलास पानी पिलाता है फ्री में और पेशाब बना कर निकाल देता है फ्री में.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *