AAP कार्यकर्ता पकौड़े बेचकर करेंगे मोदी सरकार का विरोध

January 23, 2018 by No Comments

लखनऊ: एक समाचार चैनल को दिए इंटरव्यू में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रोज़गार के सवाल पर पकौड़ों का ज़िक्र किया. उन्होंने कहा कि जो दफ़्तर के बाहर ठेले पे पकौड़े बेच रहा है वो भी रोज़गार ही है. इस पर विपक्ष और सोशल मीडिया पर मोदी की आलोचना हुई. आलोचना की वजह सरकार द्वारा रोज़गार दे पाने में नाकामी को माना जा रहा है.हर वर्ष दो करोड़ रोज़गार देने के नाम पर सरकार में आयी भाजपा के लिए 2 लाख रोज़गार भी मुहैया कराना मुश्किल हो रहा है.ऐसे में बेरोज़गारी से जूझ रहे युवा तरह-तरह के तरीक़ों से प्रोटेस्ट कर रहे हैं.

ऐसा ही एक तरीक़ा आम आदमी पार्टी की युवा विंग और छात्र विंग CYSS ने निकाला है. लखनऊ में बुधवार के रोज़ आम आदमी पार्टी के युवा कार्यकर्ता एकजुट होंगे और पकौड़े बेच कर मोदी सरकार का विरोध करेंगे. CYSS के अवध प्रान्त अध्यक्ष वंशराज दुबे ने इस बारे में कहा कि चूंकि मोदी जी कहते हैं कि पकौड़े बेचना भी रोज़गार है तो हम उन्हें ये बताना चाहते हैं कि देश के पढ़े-लिखे युवाओं को उन्होंने पकौड़े बेचने पर मजबूर कर दिया है.. हालाँकि पकौड़े बेचने में कोई बुराई नहीं है लेकिन हक़ीक़त ये है कि अधिकतर लोग जो पकौड़े बेच रहे हैं वो ये काम मजबूरी में कर रहे हैं.

आम आदमी पार्टी की युवा ईकाई भी इस अलग तरह के प्रोटेस्ट में भाग लेगी. इस प्रोटेस्ट के माध्यम से भाजपा सरकार पर दबाव डालने की कोशिश है. उत्तर प्रदेश और देश में बढ़ती बेरोज़गारी से युवा परेशान तो हैं ही, साथ ही क्राइम बढ़ने की भी एक वजह बेरोज़गारी को माना जा रहा है.
[get_Network_Id]

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *