AISA नेत्री पर ABVP का हमला; गुरमेहर कौर और शेहला राशिद ने कहा ये “कार्यक्रम भंग करो दिवस” मनाते हैं..

February 22, 2018 by No Comments

लेफ्ट के स्टूडेंट विंग आइसा की दिल्ली यूनिवर्सिटी यूनिट की अध्यक्ष कवलप्रीत कौर ने बीजेपी और आरएसएस के स्टूडेंट विंग एबीवीपी के सदस्यों पर उन्हें ‘जान से मारने की धमकी’ देने का आरोप लगाया है। कवलप्रीत कौर दिल्ली यूनिवर्सिटी के सत्यवती कॉलेज में गूगल की ओर से डिजिटल सुरक्षा पर आयोजित चर्चा में वक्ता के तौर पर शामिल होने गई थी।
अभी कार्यक्रम चल ही रहा था कि एबीवीपी के गुंडों ने वहां पर हंगामा खड़ा कर दिया और कार्यकर्म में खलल डालने डाल दी।
फर्स्टपोस्ट की खबर के मुताबिक, कवलप्रीत का आरोप है कि एबीवीपी के लोग उन्हें वहां से हटाए जाने के लिए ये हंगामा कर रहे थे। मुझे वहां से न हटाए जाने पर उन्होंने कार्यक्रम में आग लगाने तक की धमकी भी दी। उन्होंने कार्यक्रम में मौजूद प्रोफेसरों के साथ मारपीट की और उसके बाद मेरे साथ बदसलूकी की। मुझे बचाने के लिए जब पुलिस वहां पहुंची तो एबीवीपी पुलिस से कहा-आप उसे कहां ले जा रहे हैं? हम उसकी जान ले लेंगे.’
कवलप्रीत ने इस मामले में दिल्ली के भारत नगर थाने में एबीवीपी के सदस्यों के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है। इस सन्दर्भ में दिल्ली यूनिवर्सिटी की छात्रा गुरमेहर कौर ने ट्वीट कर ABVP पर हमला बोलते हुए ट्वीट किया है, लगता है जैसे 22 फरवरी एबीवीपी का सलाना कार्यक्रम भाग करो दिवस है।

पूरे एक साल बाद इतिहास ने खुद को दोहराया है, पिछले साल फरवरी में रामजस कॉलेज में एबीवीपी द्वारा स्टूडेंट्स और टीचर्स की पिटाई की गई थी। आज कवल ऑनलाइन हरासमेंट के बारे में बात करने जा रहा था तो एबीवीपी ने प्रत्यक्ष रूप में इसका प्रदर्शन कर दिया और बीजेपी संचालित दिल्ली पुलिस हाथ पर हाथ धरे तमाशा देखती रही।
वहीँ एबीवीपी ने कवलप्रीत कौर के आरोपों को खारिज करते हुए उन पर छात्रों को ‘उकसाने की कोशिश करने’ का आरोप लगाया। एबीवीपी सदस्य और कॉलेज की छात्र इकाई के महासचिव कृणाल यादव ने कहा कि कवलजीत को खरोंच तक नहीं आई है. किसी ने उन्हें छुआ तक नहीं था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *