वैलेंटाइन डे पर AIDWA और SFI ने चलाया ‘मेरी पसंद मेरा संवैधानिक अधिकार’

February 14, 2018 by No Comments

वैलेंटाइन डे के मौक़े पर जहाँ प्रेम-प्रेमिका अपने प्रेम का इज़हार कर रहे हैं वहीँ कुछ ऐसे भी संघठन हैं जो संस्कृति को बचाने के नाम पर प्रेम पर वार कर रहे हैं. आज 14 फरवरी, 2018 ‘‘वेलेन्टाइन डे’’ के मौके पर एडवा व एस0एफ0आई0 के संयुक्त तत्वावधान में हजरतगंज चैराहे लखनऊ पर सैकड़ो की संख्या में ‘मेरी पसन्द मेरा संवैधानिक अधिकार’ पर हस्ताक्षर करवाये गये।

हस्ताक्षर करने वालों में बड़ी संख्या में नवयुवक नवयुवतियाॅ थीं। एडवा व एस0एफ0आई0 द्वारा जारी संयुक्त बयान में कहा गया है कि कंुठित मानसिकता के लोग अपने तुगलकी फरमानों द्वारा अपना घटिया सोच का परिचय दे रहे हैं। कोई भी संस्कृति व स्वस्थ परम्परा ‘‘प्रेम’’ के खिलाफ नहीं है। राधा कृष्ण के प्रेम पर भाव विभोर होने वाला समाज दो प्रेमियों को देखकर खुंखार हो जाता है जिसका उदाहरण खाप पंचायत हैं, जो क़ानून हाथ में लेकर प्रेमियों की हत्या तक कर देती है।

बयान में कहा गया कि ‘‘पसन्द का अधिकार’’ वयस्कों का संवैधानिक अधिकार है जिस पर प्रतिगामी विचारधारा लगातार हमले कर रही है, जिसका एडवा सख्त विरोध करती है। लखनऊ विश्वविद्यालय में प्राक्टर द्वारा जारी सरकुलर जिसमें 14 फरवरी, 2018 को छात्र छात्राओं को परिसर में ना आने की सख्त हिदायत दी गयी है की एडवा ने सख्त निन्दा की। 

आज के हस्ताक्षर अभियान में नवयुवतियों नवयुवकों ने बेहद उत्साह दियाा था। कुछ वरिष्ठ नागरिकों ने भी हस्ताक्षर किये। आज लगभग 1000 हस्ताक्षर करवाये गये है। आगे भी विद्यालयों में हस्ताक्षर अभियान चलाया जायेगा। आज के अभियान में मुख्य रूप से सीमा राना, सुमन सिंह, मधु गर्ग, स्मिता पाण्डे, शिल्पी चैधरी, चन्द्रा वर्मा व एस0एफ0आई0 से अनुपम यादव पंकज तथा प्रवीण पाण्डेय व सद्दाम आदि उपस्थित थे।  

Tags: ,

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *