महागठबंधन में शामिल होने को लेकर AIMIM का बड़ा बयान, ‘भाजपा को हराएँगे’

October 17, 2018 by No Comments

लखनऊ: लोकसभा चुनाव को लेकर अब सभी दल तैयारियों में लगे हैं. कुछ दलों ने हल्का फुल्का प्रचार शुरू कर दिया है तो कुछ करने की तैयारी में हैं. आल इंडिया मजलिस ए इत्तिहादुल मुस्लिमीन जोकि फ़िलहाल तेलंगाना में विधानसभा चुनाव में मसरूफ़ है, लोकसभा को भी ध्यान में रक्खे हुए है. लोकसभा चुनाव में सबसे बड़ी चर्चा इस बात को लेकर है कि उत्तर प्रदेश में किसको सफ़लता मिलेगी, गठबंधन बनेगा तो कैसा बनेगा. इसी बात को लेकर आल इंडिया मजलिस ए इत्तिहादुल मुस्लिमीन का बड़ा बयान आया है.

AIMIM २२ अक्टूबर से प्रदेश में लोकसभा चुनाव को लेकर रैली करने वाली है. पार्टी ने प्लान किया है कि वो २२ अक्टूबर से लेकर 19 नवम्बर तक राज्य में 100 रैलियाँ करेगी. पहली रैली इलाहाबाद में होगी जबकि अंतिम रैली 19 नवम्बर को लखनऊ में होगी. AIMIM का दावा है कि उत्तर प्रदेश में भाजपा को रोकने के लिए AIMIM का साथ ज़रूरी है. पार्टी के उत्तर प्रदेश अध्यक्ष शौक़त अली कहते हैं कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के बाद से ही पार्टी ने अपना संगठन मज़बूत किया है.

उन्होंने दावा किया कि जहाँ अन्य दल भाजपा को हारने की बात करते हैं वहीं AIMIM इसको लेकर ठीक से काम करती है. उन्होंने कहा कि भाजपा को हारने के लिए हम पूरी मेहनत से काम करेंगे.शौक़त कहते हैं कि बिना उनकी पार्टी के सहयोग के बसपा और सपा का भाजपा को हराना मुश्किल होगा.

उन्होंने ये भी कहा कि चुनाव अगर भाजपा और कांग्रेस के बीच होता है तो भाजपा को रोकना मुश्किल होगा. महागठबंधन में शामिल होने को लेकर उन्होंने कहा कि अगर महागठबंधन बनाने वाली पार्टियों की ओर से कोई प्रस्ताव मिलता है तो उस पर विचार किया जाएगा.

AIMIM का मानना है कि उनकी पार्टी रालोद से बड़ी पार्टी है, ऐसे में उनकी पार्टी को महागठबंधन में शामिल करना फ़ायदे का सौदा होगा. अगर AIMIM महागठबंधन में शामिल होती है तो महागठबंधन को बड़ी संख्या में मुस्लिम वोट मिलेगा.

ग़ौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में लोकसभा की 80 सीटें हैं. ऐसा माना जाता है कि जो इन सीटों पर कामयाब होता है वो ही दिल्ली की सत्ता पर क़ाबिज़ होता है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *