हम अपराधियों को अपने यहाँ आने से रोकते रहे और भाजपा वाले उन्हें लेते रहे: अखिलेश यादव

लखनऊ: हिंदुस्तान शिखर समागम में बात करते हुए समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भारतीय जनता पार्टी की सरकार पर निशाना साधा. उन्होंने कहा कि वो हमेशा राजनीति से अपराधियों को दूर रखने की कोशिश करते हैं. अखिलेश ने कहा कि एक तरफ़ जहां हम अपराधियों को राजनीति में आने से रोकते रहे वहीँ दूसरी ओर भाजपा के लोग अपराधियों को अपने साथ लेते रहे.

एक सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि पारिवारिक झगड़े से पार्टी को नुक़सान हुआ. उन्होंने कहा,”मैं तो ये कहता हूँ कि कोई झगड़ा होगा और जितना क़रीब का झगड़ा होगा उतना ही नुक़सान होगा इसलिए झगड़ा नहीं करना चाहिए.” उन्होंने कहा कि ना तो परिवार का, ना ही समाज का ना ही देश का झगड़ा होना चाहिए. उन्होंने कहा कि झगड़े से सिर्फ़ नुक़सान ही होता है.

उत्तर प्रदेश की भाजपा सरकार पर उन्होंने किसानों की अनदेखी का आरोप लगाया. उन्होंने कहा कि जहाँ बात थी कि सरकार आएगी तो गन्ने का भुगतान कराया जाएगा लेकिन अभी तक कोई भुगतान नहीं हो पाया. उन्होंने कहा कि किसानों के क़र्ज़ माफ़ी के नाम पर 20 पैसे, 80 पैसे और एक रूपये के क़र्ज़ माफ़ किये गए.

उन्होंने नगर निकाय चुनाव के बारे में कहा कि इससे हालाँकि कोई बड़ा सिग्नल नहीं मिलता है और इससे ये नहीं पता चल पाता कि सरकार के प्रति लोगों का रवैया क्या है लेकिन कुछ असर ज़रूर डालते हैं.

अखिलेश इस कार्यक्रम में अपनी चिर-परिचित समाजवादी टोपी पहन कर आये थे. पूर्व मुख्यमंत्री से कई सवाल पूछे गए और उन्होंने सभी सवालों का खुल कर जवाब दिया.

Leave a Reply

Your email address will not be published.