BJP मतलब ‘Behad Jhoothe Pracharak’: अखिलेश यादव

February 3, 2018 by No Comments

लखनऊ: केंद्र सरकार ने अपने कार्यकाल का अंतिम आम बजट पेश कर दिया है। इस आम बजट में देश के वित्तमंत्री अरुण जेटली ने किसानों और ग्रामीण अर्थव्यवस्था के मोर्चे पर अपना खाजाना खोल दिया है। वहीँ इसे पेश करते हुए देश के नौकरीपेशा लोगों को निराश किया है। हालांकि उम्मीद जताई जा रही थी कि चुनावों वाले इस साल में मोदी सरकार टैक्स स्लैब में बदलाव कर कुछ राहत दे सकती है। लेकिन ऐसा वित्त मंत्रालय ने ऐसा कोई भी फैसला लेकर मध्यम वर्ग के लोगों को निराश किया है।
इस मामले में उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर बीजेपी पर हमला किया है।अन्य योजनाओं की तरह ‘गोबर-धन’ योजना का लाभ भी किसानों को क्या मिलेगा जब वे सही दाम न मिलने से खेती ही छोड़ने पर मजबूर हैं. स्वास्थ्य और शि़क्षा की प्राथमिकताओं के लिए भी कोई ठोस बात नहीं. BJP मतलब ‘Behad Jhoote Pracharak’ की झूठी घोषणाओं और हवा हवाई योजनाओं के दिन अब पूरे हुए।

इससे पहले भी अखिलेश यादव ने ट्वीट किए थे जिसमें उन्होंने राजस्थान उपचुनाव में बीजेपी की हार पर चुटकी ली थी। उपचुनावों में हर जगह भाजपा की ऐतिहासिक हार ने साबित कर दिया है कि जनता के साथ धोखा और जुमलेबाज़ी करने का क्या हाल होता है. ये त्रस्त गरीबों, किसानों, युवाओं, कारोबारियों व अमन-चैन चाहनेवाले सच्चे देशप्रेमियों की जीत है. भाजपा अब नफ़रत से भरी काठ की हांडी फिर से नहीं चढ़ा पाएगी.

गरीब-किसान-मजदूर को निराशा; बेरोजगार युवाओं को हताशा; कारोबारियों, महिलाओं, नौकरीपेशा और आम लोगों के मुँह पर तमाचा। ये जनता की परेशानियों की अनदेखी करने वाली अहंकारी सरकार का विनाशकारी बजट है। आख़री बजट में भी भाजपा ने दिखा दिया कि वो केवल अमीरों की हिमायती है. अब जनता जवाब देगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *