NDA के सहयोगी ने कहा-‘हम भाजपा के ख़िलाफ़ हैं, अमित शाह कोई भगवान् नहीं’

आइजोल: मिज़ो नेशनल फ्रंट ने भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के उस बयान को ख़ारिज किया जिसमें उन्होंने कहा है कि यदि भाजपा 2019 का लोकसभा चुनाव जीतती है तो आने वाले पचास सालों तक उसी की सरकार रहेगी. मिज़ोरम के पूर्व मुख्यमंत्री और मिज़ो नेशनल फ्रंट के अध्यक्ष जोरमथंगा ने ये बातें एक समाचार एजेंसी को कहीं. उन्होंने कहा कि भाजपा की हिंदुत्व राजनीति के चलते उनकी पार्टी कभी भी भाजपा से गठबंधन नहीं करेगी. उन्होंने कहा,”मुझे संदेह है, वह (शाह) भगवान नहीं हैं। वह राजनीति में कोई भविष्यवाणी नहीं कर सकते।” उन्होंने आगे कहा, “अमित शाह यह भविष्यवाणी कर सकते हैं कि कांग्रेस सत्ता में नहीं आएगी, लेकिन 50 या 100 साल की भविष्यवाणी करना अतिशयोक्ति है।”

उल्लेखनीय है कि भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने सितंबर के महीने में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की कड़ी मेहनत की वजह से पार्टी 2019 का चुनाव जीतेगी और उसके बाद भाजपा को 50 साल तक सत्ता से कोई नहीं हटा सकता. मिजो नेशनल फ्रंट के भाजपा से रिश्तों के बारे में पूछे जाने पर दो बार मुख्यमंत्री रह चुके जोरमथंगा ने कहा कि विचारधारा और अन्य बातों को लेकर वह भाजपा के पूरी तरह विरोधी हैं.वो कहते हैं कि क्योंकि हम ईसाई हैं और वे हिंदुत्व का प्रचार करना चाहते हैं. उन्होंने कहा कि जहां तक इन चीजों की बात है तो हम साथ नहीं आ सकते। हमारी विचारधारा अलग है.

उन्होंने कहा, “जहां तक देश की बात है तो राजग संप्रग से बेहतर है, इसीलिए हम केंद्र में उसके साथ आए। लेकिन विचारधारा के मामले में हम बिल्कुल अलग हैं। भाजपा भी इस बात को अच्छी तरह जानती है।” मिज़ोरम में 28 नवंबर विधानसभा चुनाव हुए हैं जिसमें मिज़ो नेशनल फ्रंट ने कांग्रेस और भाजपा के खिलाफ अकेले चुनाव लड़ा है. एमएनएफ और कांग्रेस ने 40-40 जबकि भाजपा ने 39 सीटों पर अपनी किस्मत आजमाई है. मिज़ोरम में कांग्रेस को मज़बूत माना जा रहा है वहीं भाजपा इस उम्मीद में है कि वो कुछ सीटें यहाँ जीत लेगी. 11 दिसंबर को मिजोरम चुनाव के नतीजे घोषित किये जाएंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published.