‘पश्चिम बंगाल में रैली करने आए थे अमित शाह, हो गया एक और फ्लॉप शो?’

November 13, 2018 by No Comments

विधानसभा 2018 के चुनावी तैयारियों में पश्चिम बंगाल की सर जमी पर भाजपा भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी को चुनौती दी है।भाजपा ने ममता पर “बांग्‍लादेश‍ी घुसपैठियों” के लिए सॉफ्ट कॉर्नर रखने के आरोप लगाए हैं।अमित शाह ने ममता बनर्जी पर तीखे वार करते हुए यहां तक कह दिया कि,रैली की भीड़ इस बात का संकेत है कि पश्चिम बंगाल से ममता बनर्जी का शासन खत्म होने जा रहा है। अमित शाह यही नही रुके,उन्होंने यह भी कहा कि, शाह ने कहा कि पहले इस रैली को रोकने की कोशिश की और अब पश्चिम बंगाल के सारे स्थानीय चैनलों को डाउन कर दिया गया है ताकि लोग इस रैली का प्रसारण न देख सकें।

उन्होंने कहा कि बीजेपी पश्चिम बंगाल की विरोधी कैसे हो सकती है, जबकि हमारी पार्टी के संस्थापक श्यामा प्रसाजद मुखर्जी बंगाल से ही थे।उन्होंने कहा कि बीजेपी बंगाल विरोधी नहीं, ममता विरोधी है।अमित शाह ने ममता बनर्जी और कम्‍युनिस्‍ट पार्ट‍ियों पर एक साथ निशाना साधते हुए कहा कि पहले “घुसपैठियों” का वोट कम्युनिस्ट पार्टियों को मिलता था तो ममता बनर्जी “घुसपैठियों” का विरोध करती थीं। लेकिन जब उन्हें इससे वोट मिलने लगे तो अब वह एनआरसी का विरोध कर रही है और उन्होंने पश्चिम बंगाल को “बांग्लादेश” बना दिया है।

जानकारी के लिए आपको बता दें कि तृणमूल कांग्रेस को मौका मिलता ही भाजपा पर खूब निशाना बनाती है।तृणमूल कांग्रेस ने बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह की पश्चिम बंगाल रैली को फ्लॉप शो करार दिया है।पार्टी ने कहा कि बीजेपी बंगाल में एक और फ्लॉप शो आयोजित किया था। फ्लॉप मीटिंग के बाद बीजेपी बहाने ढूंढ रही है। तृणमूल कांग्रेस ने ट्वीट किया ‘बीजेपी ने अभी बंगाल में एक और फ्लॉप शो समाप्त कर लिया है।फ्लॉप बैठक के बाद बीजेपी बहानों की तलाश कर रही है।

आपको बता दें पुरुलिया ज़िले में जिन परिवार के सदस्यों से अमित शाह मुलाकात की थी,शुक्रवार उन परिवारों ने तृणमूल कांग्रेस का दामन थाम लिया। पुरुलिया के गोविंद राजभर और उनकी मां अष्टमी राजभर, शिशुबाला राजभर व उनके पुत्र संजय राजभर ने तृणमूल कांग्रेस के पूर्व मंत्री मदन मित्रा व सांसद डॉ शांतनु बोस की उपस्थिति में कालीघाट स्थित तृणमूल कांग्रेस के आवास पर तृणमूल कांग्रेस का झंडा थामते हुए कहा कि वे लोग ममता बनर्जी के आश्रय में रहना चाहते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *