गुजरात चुनाव का परिणाम आ जाएगा तो पता चल जायेगा जनता किसके साथ है: अरुण जेटली

नई दिल्ली: केन्द्रीय मंत्री अरुण जेटली ने एक बार फिर नोटबंदी और GST जैसी नीतियों का बचाव किया है. जेटली ने कहा कि नोटबंदी देश में व्याप्त काले धन की अर्थव्यवस्था पर एक आघात है. उन्होंने कहा कि कांग्रेस की प्राथमिकता कभी उस काले धन पर आघात करना नहीं था इसलिए उनकी चिंता स्वाभाविक है.

उन्होंने कहा कि GST कांग्रेस की ही एक योजना है इसलिए इस पर पार्टी का विरोध उसकी अवसरवादिता को दर्शाता है.

अमित शाह के बेटे जय शाह के बारे में उठे सवाल पर जेटली ने कहा की गुजरात चुनाव हो जाने दीजिये जब परिणाम आ जाएगा तो ये साफ़ हो जाएगा कि जनता किसके साथ है.

गुजरात की 182 विधानसभा सीटों के लिए दिसम्बर माह के शुरू में चुनाव होने हैं. इस चुनाव में कांग्रेस और भाजपा के बीच मुख्य मुक़ाबला है. एक साल पहले तक अंदरूनी खींचतान झेल रही कांग्रेस नए जोश और उत्साह में नज़र आ रही है. कांग्रेस नेता ये मान रहे हैं कि कई साल बाद ऐसा मौक़ा आया है कि कांग्रेस चुनाव जीत सकती है.

भाजपा ने भी चुनाव को लाकर पूरी तैयारी की हुई है. हालाँकि पार्टी के नेता दबी ज़बान में मानते हैं कि इस बार पार्टी की स्थिति पहले जैसी नहीं है और मुक़ाबला लगभग बराबरी का है. कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गाँधी की रैलियों में जुट रही भीड़ भी भाजपा के लिए चिंता का सबब बन गयी है. वहीँ व्यापारी, दलित और पाटीदार समाज के लोग भाजपा से नाराज़ हैं जिसका ख़ामियाज़ा पार्टी को उठाना पड़ सकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.