अयोध्या में रात में हुआ कुछ ऐसा जिससे बीजेपी की बढ़ी परेशानी,हुआ बड़ा एलान

October 9, 2018 by No Comments

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर अब हिंदूवादी संगठनों ने मोदी सरकार और बीजेपी के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। आपको बता दें कि बीते साल से ही बीजेपी इन को राम मंदिर निर्माण के मामले में हिंदूवादी संगठनों ने चेतावनी देनी शुरू कर दी थी। इस मामले में प्रधानमंत्री मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर जमकर सवाल उठाए जा रहे हैं। क्योंकि इन दोनों नेताओं ने साल 2019 से पहले अयोध्या में राम मंदिर निर्माण की गवाही भरी थी।

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण मुद्दा फिर गर्माया

2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव से पहले एक बार फिर अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का मुद्दा गर्मा गया है। इस बार तो हिंदूवादी संगठनों ने बीजेपी को यह चेतावनी दे दी कि है कि अगर अगले साल से पहले अयोध्या में रामलला का मंदिर नहीं बना तो उनके लिए नतीजे काफी बुरे साबित होंगे।

आमरण अनशन पर बैठे संत परमहंस

उत्तर प्रदेश की राजनीति केंद्र में सत्ता बनाने के लिए काफी महत्वपूर्ण मानी जाती है और भारतीय जनता पार्टी इस वक्त पूरी तरह से फंस चुकी है क्योंकि अभी तक इस मामले में सुप्रीम कोर्ट का कोई आदेश नहीं आया है। सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बिना बीजेपी राम मंदिर के लिए 1 ईंट तक भी नहीं रख सकती। लेकिन अब साधू संत समाज ने बीजेपी पर उनके साथ धोखा करने का आरोप लगाया है।

पुलिस ने जबरन उठाया, वीडियो वायरल

इस कड़ी में अयोध्या से हमारे सामने एक वीडियो आई है। जिसमें जब सादी वर्दी में पहुंची पुलिस संत परमहंस को उठाकर एम्बुलेंस में ले गई। इसके साथ ही उनके अनशन को खत्म कर दिया गया। आपको बता दें कि पिछले 7 दिनों से अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को लेकर आमरण अनशन पर बैठे संत स्वामी परमहंस दास को पुलिस ने जबरदस्ती उठा दिया है इस मामले में विश्व हिंदू परिषद के पूर्व अध्यक्ष प्रवीण तोगड़िया अयोध्या पहुंचकर राम मंदिर आंदोलन की शुरुआत करेंगे।

प्रवीण तोगड़िया ने दी ये चेतावनी

इस मामले में उन्होंने पहले ही चेतावनी दे दी है कि वह 21 अक्टूबर को अपने समर्थकों के साथ लखनऊ से अयोध्या तक मार्च करने वाले हैं। आपको बता दें की संत परमहंस को अनशन समाप्त करने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वीडियो कांफ्रेंस के जरिए बातचीत करके आश्वासन भी दिया था। लेकिन वह उनकी बात नहीं माने थे संत परमहंस चाहते थे कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ अयोध्या आए और वहां पर आकर बातचीत करें।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *