इलाहाबाद का नाम बदलने पर आज़म ने कहा-‘सवाल अकबर या औरंगज़ेब का नहीं..’

October 18, 2018 by No Comments

उत्तर प्रदेश की योगी आदित्यनाथ सरकार ने इलाहाबाद शहर का नाम बदल कर प्रयागराज कर दिया है. ऐसे में सरकार की इस मामले में आलोचना भी हो रही है तो कुछ लोग सरकार के इस फ़ैसले का समर्थन भी कर रहे हैं.

File Photo


अब इस बीच समाजवादी पार्टी के क़द्दावर नेता आज़म ख़ान का इस मामले में बयान आया है. उन्होंने कहा कि सवाल अकबर और औरंगज़ेब का नहीं है…याद होगा आपको किसी ज़माने में किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज का नाम बदला गया ..पूरी दुनिया में शोर हुआ और किंग जॉर्ज किंग जॉर्ज ही रहा.

आज़म ख़ान, समाजवादी पार्टी नेता


आज़म ने कहा कि एक दौर में रामपुर का नाम मुस्तफ़ाबाद रखने की कोशिश हुई लेकिन मेजोरिटी मुसलमानों की होने के बावजूद इसका नाम रामपुर ही रहा.उन्होंने कहा कि नाम दिलों पर लिखी चीज़ होती है. आज़म ने कहा कि साल 2019 की तैयारी है.

उन्होंने कहा कि भाजपा को 2019 के लोकसभा चुनाव की तैयारी करनी है तो या तो 10 करोड़ नौजवानों को नौकरी दे या फिर ताजमहल को गिराकर शिवमंदिर बनाए. सरकार की मंशाओं पर खुलकर बोलते हुए उन्होंने कहा कि बाबरी मस्जिद गिराई जा सकती है क्योंकि उससे कोई आमदनी नहीं है. लेकिन ताजमहल नहीं गिराया जाएगा क्योंकि उससे तो करोड़ों का राजस्व आता है.

ग़ौरतलब है कि उत्तर प्रदेश के अहम् शहर इलाहाबाद का नाम उत्तर प्रदेश सरकार ने प्रयागराज कर दिया. सरकार के इस फ़ैसले की बुद्धजीवियों ने निंदा की है. लोगों का मानना है कि जबकि बात विकास की है तो नाम बदलने से क्या होगा. वहीं सरकार के इस फ़ैसले के बाद सोशल मीडिया पर भी ख़ूब इसको लेकर जोक्स बने.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *