ATM इस्तेमाल करने वालो के लिए बुरी खबर,SBI ने एटीएम से पैसे निकालने पर बदला नियम

October 28, 2018 by No Comments

देश के सबसे बड़े बैक एसबीआई ने एटीएम लेनदेन के नियमो में बदलाव किया है.एसबीआई की तरफ से इस बारे में अपनी सभी शाखाओं को निर्देश जारी कर दिए गए हैं.एसबीआई की वेबसाइट पर जानकारी दी है “क्लासिक और मैस्ट्रो कार्ड की रोजाना की विदड्रॉल लिमिट 31 अक्टूबर से 40,000 से घटाकर 20,000 कर दी जाएगी. लेकिन बैंक ने ये भी सुचना दी है अगर कोई अपनी लिमिट बढ़वाना चाहता है तो वो अपने कार्ड को प्लेटिनम कार्ड में कन्वर्ट कर सकता है.

क्यों लिया ये निर्णय…
एसबीआई ने यह निर्णय इसलिए लिया है ताकि,एटीएम ट्रांजेक्शन में होने वाली धोखाधड़ी की मिलने वाली शिकायतों को धयान में रखते हुए एवं डिजिटल-कैशलेस ट्रांजेक्शन को बढ़ावा मिल सके और नकदी निकासी की सीमा को घटाने के लिए निर्णय लिया गया है.दरअसल, इस निर्णय के पीछे यह वजह है कि पिछले कुछ सालों में देखा गया है कि एटीएम मशीन के आसपास कैमरे लगाकर ग्राहकों का पिन चुराकर फ्रॉड करने वाले कार्ड का क्‍लोन तैयार कर लेते हैं.

SBI ने एक और सर्विस बंद की
देश का सबसे अग्रणी बैंक जल्‍द ही एक सर्विस को बंद करने जा रहा है.इस सर्विस के बंद होने से लाखों लोगों को परेशानी हो सकती है.भारतीय स्टेट बैंक ने अपनी एक खास सर्विस एसबीआइ बडी (SBI BUDDY) को बंद करने का निर्णय लिया है.यह 30 नवबंर को बंद कर दिया जाएगा.इस एप को अब तक एक करोड़ लोग डाउनलोड कर चुके हैं.

क्‍या है एसबीआइ बडी

GOOLE SEARCH


एसबीआइ बडी एक मोबाइल वॉलेट सर्विस है जो एसबीआइ ने अपने ग्राहकों के लिए लांच किया था.एसबीआइ ने अपनी वेबसाइट के जरिए इसको बंद करनेे की जानकारी अपने ग्राहकों को दी है.बैंक ने कई वॉलेट को बंद कर दिया था, जिनमें कोई राशि नहीं थी.हालांकि जिन खातों में बैलेंस है, उन्‍हें कैसे बंद करना है यह जानकारी नहीं दी गई है,इस ऐप को 2015 में लांच किया गया था.

ये रहा विकल्‍प
बैंक ने इस वॉलेट को बंद करने के निर्णय से पहले इसका विकल्‍प ला दिया था.एसबीआइ ने अपने ग्राहकों की सुविधा के लिए योनो (YONO) को लॉन्च किया है.इस सर्विस से आप कई सारी सुविधाएं एक साथ ले सकते हैं.

बैंक इसे एक ही प्लेटफॉर्म पर बैंकिंग और सोशल लाइफ दोनों का सॉल्यूशन होने की बात कह कर प्रमोट कर रहा है.इसमें टैक्‍सी बुकिंग, ऑनलाइन शॉपिंग और मेडिकल बिल का भुगतान करना भी शामिल है.यह सर्विस साल 2017 में लांच हुई है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *