बाग़पत में हिन्दू धर्म अपनाने वाले आदमी की पत्नी ने कहा-“मुसलमान हूँ, और मरते दम तक मुसलमान रहूँगी”

October 4, 2018 by No Comments

नई दिल्ली: धर्म परिवर्तन एक विवादित विषय रहा है। अक्सर दक्षिणपंथी ताकतों द्वारा मुस्लिम राजाओं पर आरोप लगाया जाता है कि उन्होंने भारत में बलात धर्म परिवर्तन कराया था। ऐसे आरोप मुगल बादशाहों से लेकर शहीद टीपू सुल्तान पर तक लगाये जाते हैं। हालांकि इतिहास में कोई तथ्य नहीं मिलता जहां से यह साबित हो सके कि किसी मुस्लिम शासक ने बलात धर्म परिवर्तन कराये, हां ऐसे सैंकड़ों उदाहरण हैं जिसमें मुस्लिम शासकों ने मंदिर और दूसरे धर्म के धार्मिक कार्यों के लिये खजाना लुटाया।


इस सबके बीच इसी महीने की दो तारीख को उत्तर प्रदेश के बागपत जिले से खबर आई थी कि बागपत क बदरखा गांव में दर्जन भर मुसलमानों ने धर्म परिवर्तन कर लिया है और वे हिन्दु बन गये हैं। उन्होंने एक स्थानीय मंदिर में धर्म परिवर्तन किया और फिर साथ ही साथ अपना नाम भी बदल लिया। धर्म परिवर्तन करने वाले इन लोगों का कहना था कि उनके परिवार के एक शख्स की हत्या हो गई थी लेकिन प्रशासन ने कोई कार्रावाई नहीं की और कौम ने भी उनका साथ नहीं दिया।

अब खबर आई है कि जिन परिवारो ने इस्लाम धर्म छोड़कर हिन्दू धर्म अपनाया है उन परिवारों की महिलाओ ने खुद को हिन्दू मानने से इनकार कर दिया है। और कहा है कि उनके पति जो चाहे करें, जो चाहे धर्म अपनायें लेकिन वे मुसलमान थीं और मुसलमान ही रहेंगी। एक महिला तो पति द्वारा हिन्दू धर्म अपनाने से इस कदर गमज़दा हुई की वह अपने पति को छोड़कर अपने मायके में चली गई।


बीबीसी की रिपोर्ट के मुताबिक धर्म परिवर्तन करने वाले नौशाद जिसने हिन्दू धर्म अपनाने के बाद अपना नाम नरेन्द्र कर लिया उसकी पत्नि रूकैय्या कहती है कि उन्हें अपने ही मज़हब में रहना है और उनके पति झूठ बोल रहे हैं कि वो हिन्दू बन गई हैं।

रुकै़या जब ये बात बीबीसे से बता रही थीं तो नरेंद्र ( नौशाद) ने उन्हें रोकने की कोशिश की। रुकै़या ने अपने पति से कहा, ”आपको जो बनना है बनो। मुझे अपने ही मज़हब में रहना है।” रुकै़या की गोद में उसका चार साल का उनका बेटा नाहिद है। नरेंद्र कहते हैं कि उनका बेटा नाहिद भी हिन्दू बन गया है। ये सुनकर रुकै़या कड़ी आपत्ति दर्ज कराती हैं और कहती हैं, ”तुम बनो जो बनना है। ये मुसलमान ही रहेगा।”

(बीबीसी से इनपुट के आधार पर, साभार- नेशनल स्पीक)

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *