बाहुबली अतीक के लिए बड़ी खबर,बदल जायेंगे सियासी समीकरण

April 18, 2019 by No Comments

पूर्व सांसद अतीक अहमद एक बार फिर सुर्खियों में है.लोकसभा चुनाव की सरगर्मी के बीच जिले में नामांकन शुरू होने के साथ ही पूर्व सांसद अतीक अहमद को बरेली से नैनी जेल शिफ्ट करने की खबर ने सियासत के गलियारे में हलचल मचा दी है.जेल की सलाखों के पीछे से दबं’गई को लेकर चर्चा में रहने वाले अतीक अहमद को तमाम शिकायतों के बावजूद शासन की ओर से निर्वाचन आयोग से इसके लिए अनुमति मांगे जाने पर सवाल उठ रहे हैं.
वहीं लोकसभा चुनाव के बीच अतीक अहमद को लेकर यह नरमी क्यों बरती जा रही है.इसको लेकर भी कई सियासी निहितार्थ निकाले जा रहे हैं.बाहुबली अतीक अहमद कि मुस्लिम मतदाताओं में बेहद मजबूत पकड़ मानी जाती है.बीते साल फूलपुर लोकसभा के लिए हुए उपचुनाव में भी अतीक अहमद का असर किसी से छुपा नहीं रहा सलाखों के पीछे होने के बावजूद भी अतीक अहमद तीसरे स्थान पर रहे और में 48094 वोट मिले थे.

लोकसभा चुनाव के बीच लोकसभा चुनाव में मुस्लिम मतों के ध्रुवीकरण को रोकने के लिए सियासत के रहने के तहत अतीक अहमद को नैनी लाने की कवायद चल रही है। जिसका फायदा सीधे तौर भाजपा को मिल सकता है.बाहुबली अतीक अहमद मुस्लिम बाहुल्य इलाके शहर पश्चिमी से पांच बार विधायक रहे हैं.
अतीक फूलपुर से सांसद भी चुने गए बीते साल उपचुनाव में चुनाव लड़ा अहमद मतदान से एक दिन पहले पेशी पर आकर अपनी ताकत दिखा गए थे. जिसका आलम यह रहा कि वह तीसरे स्थान पर रहे समाजवादी पार्टी के उम्मीदवार नागेंद्र सिंह पटेल को शहर पश्चिमी में 33354 वोट मिले थे.ऐसे में अतीक अहमद को नैनी जेल लाने की पूरी प्रक्रिया को लोकसभा चुनाव से जोड़कर देखा जा रहा है.

हालांकि चर्चा इस बात की भी है कि अतीक अहमद की पत्नी शाइस्ता परवीन फूलपुर से चुनाव लड़ने की उम्मीद जताई जा रही है.अगर ऐसा हुआ तो अतीक अहमद एक बार फिर अपनी ताकत दिखाने में कामयाब होंगे.राजनीतिक जानकार यह भी कह रहे हैं कि अगर अतीक अहमद को चुनाव से पहले नैनी जेल में शिफ्ट किया गया और उनके परिवार का कोई भी सदस्य चुनाव नहीं लड़ता है तो भी अतीक अहमद की पूरी दखलंदाजी फूलपुर लोकसभा में होगी जिसका सीधा असर समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के गठबंधन पर होगा.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *