जब शौहर अपनी बीबी को रुलाता है, तो अल्लाह अपने फरिश्तों को क्या हुक्म देता है, जानने के लिए यहा पढ़ें

पति जो अपनी पत्नी का हक अदा नहीं करता और अपनी पत्नी को रुलाते रहते हैं और सताते रहते हैं यहां तक कि उनको मारते रहते हैं और त;लाक की ध’मकी देते हैं तो अल्लाह पाक उनके साथ क्या मामला फरमाता है जब भी कोई आदमी अपनी बीवी को ना’जायज रुलाता है सताता है और उसका हक पूरा नहीं करता तो हदीस में में इसके बारे में बताया गया है अल्लाह उसके साथ किया मामला फरमाता है ।

अल्लाह ताला अपने फरिश्तों को हुक्म देता है कि फरिश्तों जाओ उस आदमी के पास जिसने अपनी बीवी को ना’जाय’ज रुलाया है अपनी बीवी को सता’या है उसका हक पूरा नहीं करता उसको प्यार नहीं करता तो जा

ओ उसके पास और उसे ये चीज छीन कर ले आओ और वह जो चीज है अल्लाह पाक फरमाते हैं अपने फरिश्तों को उसके रोजी से बरकत छीन लो उसको तं’गदस्ती में शामिल कर दो उसके घर से रहमत को उठा लो उस आदमी की कोई भी फरियाद और दुआ मुझ तक ना पहुँचाओ।

उस वक्त तक जब तक वह आदमी अपनी बीवी से सुलह नहीं कर लेता अपनी बीवी को नाहक रुलाना ख’त्म नहीं कर लेता अपनी बीवी का हक पूरा करने की कोशिश नहीं कर लेता तब तक

उसकी कोई भी फरियाद उसकी कोई भी दुआ मुझ तक ना पहुंचाओ रसूले अकरम सल्लल्लाहू अलेही वसल्लम ने फरमाया दुनिया में तीन चीजें ऐसी हैं जो मुझे बहुत पसंद है और जो मुझे पसंद है वह मेरे रब को भी बहुत पसंद है।

वह तीन चीजों यह हैं पहला नमाज़, नमाज के बारे में अल्लाह के रसूल ने फरमाया मेरी आंखों की ठंडक है दूसरा खुशबू उसके बारे में फरमाया कि अगर कोई हदिया करे लेने से इन’कार ना करें.

तीसरे नेक औरत या नेक बीवी जिस चीज को मेरे आका ने पसंद फरमाया है उस नेमत कि अगर हम कदर ना करें और उसकी न कदरी करें तो अल्लाह पाक किस तरह हम पर रहम करेगा।

अगर हम अपनी बीवी के हक को पूरा नहीं करते उसका हक अदा नहीं करते तो हमको चाहिए कि हम उसको पूरा करने वाले बने उससे प्यार करें और जो मेरी मां बहन अपने शोहर का हक पूरा नहीं करती उनसे भी गुजारिश है कि अपने पति का पूरा हक अदा करें

उनकी बात सुने उनकी बात माने इंशा अल्लाह आपकी जिंदगी जन्नत बन जाएगी अल्लाह ऐसी बरकत देगा आपके घर में ऐसी रहमत नाजिल फरमाए गा जिसका आप तसव्वर भी नहीं कर सकते दुआ है अल्लाह ताला हमें अपने महबूब बन्दों में शामिल फरमाए ।

Leave a Reply

Your email address will not be published.