बिल्ली का 'रोना' और 'रास्ता काटने' का क्या होता है मतलब,जाने कुरान और हदीस में क्या लिखा है ?

February 22, 2019 by No Comments

सोशल मीडिया पर एक विडियो वायरल हो रहा है,इस विडियो में बताया जा रहा है कि अगर बिल्ली घर में रोये तो उसका क्या मतलब होता है,वहीं अगर बिल्ली रास्ता काट दे तो इसका क्या मतलब होता है।इस विडियो में बताया जा रहा है कि दुनिया में जो जानवर होते हैं,वह इन्सानों से साथ दिन पहले देखते हैं और जो चीज़ दुनिया में होनी होती है.
उसे जानवर 7 दिन के पहले जान लेते हैं,इसलिए घर में जब कोई मुसीबत आने वाली होती है,तो जानवर पहले ही जान लेते हैं,विडियो में बताया जा रहा है कि बिल्ली उस वक़्त रोती है,जब घर में कोई मुसीबत आने वाली होती,या किसी की मौत होने वाली होती है,इसलिए घर में जब बिल्ली रोये तो इंसान को चाहिए कि वह सदका करे,ताकि आने वाली मुसीबत टल जाये।

बिल्ली


वहीं विडियो में यह भी बताया जा रहा है कि जब इंसान रास्ते पर चलता है,तो कभी कभी बिल्ली आकर सामेन से गुज़र जाती है,और रास्ता काट देती है,इसकी वजह से लोग परेशान हो जाते हैं,तो इस विडियो में बताया जा रहा है कि अगर बिल्ली रास्ते में सामने आए और रास्ता काटते वक़्त वह मूड कर इंसान को देख ले तो इस का मतलब यह होता है कि उस इंसान के लिए कोई मुसीबत आने वाली है,अगर बिल्ली रास्ते से गुजरते वक़्त मूड कर इंसान को न देखे तो इसका मतलब यह है कि कोई परेशानी वाली बात नहीं है।
वहीं विडियो में बताया जा रहा है कि जब बिली मूड कर देख ले तो इंसान को चाहिए कि वह चौकन्ना हो जाये,मुसीबत से बचने के लिए दुआ पढे और सदका करे।दोस्तों यह तमाम बातें इस विडियो में हैं,लेकिन इस्लाम से इन बातों का कोई मतलब नहीं है,यह इन्सानों का वहम है,हाँ इंसान को चाहिए कि वह सदका करता रहे,क्योंकि सदका आने वाली मुसीबतों को टाल देता है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *