शादी की पहली रात बीवी से हमबि’स्तरी करने का इस्लामिक तरीका, बहुत अहम् मसला

December 17, 2018 by No Comments

अस्सलाम वालेकुम मेरे प्यारे भाइयों और बहनों आज हम अपने उन भाइयों के बारे में बात करेंगे जिनकी शा दी होने जा रही है या हो चुकी है। आज हम यह बताना चाहेंगे की बीवी से हमबि स्तरी करने का सही इस्ला मी तरीका क्या है मियां बीवी के रिश्ते में ऐसी बहुत सारी बातें हैं जिन का जानना बहुत जरूरी है


लेकिन बहुत ही कम लोग हैं जो इन बातों को जानते हैं क्योंकि बहुत सारे लोग इस्ला मिक किताबों को पढ़ते ही नहीं है और किसी आलिम से इस बारे में पूछने से हम शर्माते हैं.

दोस्तों कई बार इ स्लामिक चीजों को जानना बहुत जरूरी होता है हम आज उनसे पूछने में शर्मआते हैं लेकिन अपने दोस्तों से इसी बारे में चर्चा करते हुए बिल्कुल भी शरमाते नहीं है। दोस्तों आज जो हम आपको बताने जा रहे हैं


इस बात को इ स्लाम के तौर पर आप अपने दोस्तों को जरूर बताएं हो सकता है आपकी वजह से कई शादीशुदा जोड़ें इ स्लामिक तरीके से हमबिस्तरी करना शुरू कर दें और उनसे अनजा ने में जो गलतियां हो रही है वह अब आगे से ना हो इसका सवाब आपको भी मिलेगा.

हजरत जुनैद बगदा दी रजि अल्लाह वन फरमाते हैं कि जिस तरह हराम सोह्बत पर गुनाह है उसी तरह जायज सोहबत पर सवाब है। एक हदीस से आता है कि दूल्हा नमाज के बाद अपनी दुल्हन के परेशानी के थोड़े से बाल को नरमी और प्यार से पकड़ कर यह दुआ जो वीडियो में दी गई है उसे पढ़कर दम करे तो मियां बीवी के रिश्ते में मोहब्बत बनी रहेगी.


और एक हदीस से है कि जमा के वक्त बात करना मना है इससे बच्चे के तोतले होने का खतरा है इसी तरह औरत की शर्मगाह की तरफ देखने से भी बचना चाहिए जिससे बच्चे के अंधे होने का खतरा होता है वैसे हैं बिना कपड़ों के भी नहीं होना चाहिए उससे बच्चा बेश र्म हो सकता है. एक और हदीसे है कि हमबि स्तरी से पहले बिस्मिल्लाह कहना सुन्नत है.

Arab couple standing on white background

और भी बेहतर हो कि आप जब कमरे में जाएं तो कमरे में जाते ही पहले बिस्मिल्लाह करें फिर दाया कदम आगे बढ़ाएं। ऐसा करने से शैता न बाहर ही रह जाएगा दोस्तों आप जब भी हमबि स्तरी के लिए कमरे में जाएं तो बिस्मिल्लाह करके दाया पैर आगे बढ़ा के कमरे में जाए जिससे शैता न बाहर रह जाएगा और आप अंदर चले जाएंगे.

 


अगर आप ऐसा नहीं करते हैं तो हम विश्वरी के वक्त शै तान भी आपके साथ शरीक होगा। दोस्तों औरत के अंदर मर्द के मुकाबले 100 गुना ज्यादा शहवत है मगर इस पर हया को मुसल्लत कर दिया गया है .

दो अगर म र्द जल्दी फारिग हो चुका है तो फौरन ही अपनी बीवी से जुदा ना हो बल्कि कुछ देर पहले फिर अलग हो। जमा के लिए किसी और का तसव्वुर करना भी जिना है और जमा का कोई वक्त मुकर्रर नहीं होता.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *