भाजपा और कांग्रेस, दोनों आरक्षण ख़त्म करना चाहती हैं: मायावती

November 6, 2018 by No Comments

बिलासपुर: जैसे जैसे छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव की तारीख करीब आती जा रही है वैसे वैसे राजनीतिक पारा बढ़ता जा रहा है ।यहाँ दो चरणों-12 नवंबर और 20 नवंबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान होगा।अब चुनाव मे अब सिर्फ दो सप्ताह ही बचे हैं इसलिए चुनाव प्रचार तेज़ हो गया है। रेलियों का दौर जारी है। इसी कड़ी मे बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की प्रमुख मायावती ने रविवार को जांजगीर-चंपा के अकलतारा विधानसभा क्षेत्र के तरौड़ गांव में एक रैली को संबोधित किया। इस रेली की खास बात यह रही कि मायावती ने कांग्रेस और बीजेपी दोनों पर जमकर हमला बोला।

उल्लेखनीय है कि छत्तीसगढ़ के आगामी विधानसभा चुनाव के लिए मायावती की बसपा और राज्य के पूर्व मुख्यमंत्री अजित जोगी की जनता कांग्रेस छत्तीसगढ़ (जेसीसी) के बीच गठबंधन हुआ है ।उन्होंने बीजेपी को जातिवादी पार्टी बताते हुए कहा कि केन्द्र की बीजेपी सरकार और मुख्य विपक्षी दल कांग्रेस दोनों मिलकर आरक्षण व्यवस्था को ख़त्म करने को साज़िश कर रहे हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि सत्ताधारी भाजपा और मुख्य विपक्षी कांग्रेस ने आरक्षण को ‘‘निष्प्रभावी” बनाने की दिशा में काम किया है और वे धीरे-धीरे इसे खत्म करने की और अग्रसर हैं।

मायावती ने याद दिलाते हुए कहा कि बाबा भीम राव आंबेडकर के अथक प्रयासों के कारण ही यह संभव हो पाया कि दलितों, आदिवासियों और अन्य पिछड़ा वर्ग के लोगों को आरक्षण मिला। उन्होंने आगे कहा कि इसी आरक्षण व्यवस्था के कारण ही समाज के दबे हुए लोगों को सरकारी नौकरियों में लाभ के अवसर मिलते रहे हैं ।जानकारों की माने तो मायावती का इस तरह सीधे तौर पर हमला करना कांग्रेस और बीजेपी दोनों के लिए अच्छी ख़बर नहीं है। कांग्रेस आगामी लोकसभा चुनाव मे महागठबंधन के सहारे बीजेपी को हराने की कोशिश कर रही है ऐसे मे वह,मुख्य रूप से दलित जनाधार वाली पार्टी बसपा को गठबंधन मे अपने साथ देखना चाहेगी। वहीं बीजेपी भी दलितों को अपने साथ जोड़ने के लिए मायावती को साथ लाने की कोशिश करना चाहेगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *