BJP धर्म-जाति और क्षेत्र के नाम पर बाँटती है, हिमाचल को बंटने नहीं देंगे: वीरभद्र सिंह

काँगड़ा: हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह अब इस बात को बख़ूबी समझ चुके हैं कि चुनाव में उनकी स्थिति भाजपा के प्रेम कुमार धूमल के मुक़ाबले मज़बूत है. इसी के साथ उनके तेवर भी तेज़ नज़र आ रहे हैं. उन्होंने यहाँ कई विधानसभा क्षेत्रों का दौरा किया और जनसभाएं कीं. जनसभाओं के दौरान उन्होंने जम कर भाजपा पर निशाना साधा.

उन्होंने कहा कि भाजपा सहित बहुत से ऐसे दल हैं जो देश को धर्म, जाति और क्षेत्र के नाम पर बांटते हैं. सिंह ने कहा कि उनकी पार्टी का विशवास एकता में है. उन्होंने कहा कि आज सारा हिमाचल एक है. कांग्रेस नेता को सुनने के लिए बड़ी संख्या में लोग जमा हुए थे. राजा साहब के नाम से पुकारे जाने वाले वीरभद्र सिंह कहते हैं कि हिमाचल बंटने वाला नहीं है.

इसके अतिरिक्त उन्होंने अपनी पांच साल की सरकार की उपलब्धियाँ भी गिनायीं हैं. उन्होंने कहा कि उनकी पार्टी सिर्फ़ विकास में विशवास रखती है और पिछले पांच साल के कार्यकाल में हिमाचल ने विकास के नए कीर्तिमान रचे हैं.

वीरभद्र ने कांग्रेस प्रत्याशियों की तारीफ़ करते हुए उनके पक्ष में मतदान करने की अपील की है. पालमपुर से प्रत्याशी आशीष बुटेल के पक्ष में वोट मांगते हुए उन्होंने कहा कि विकास की लहर को मज़बूत करने के लिए उन्हें जितायें.

9 नवम्बर को होने वाले चुनाव में कांग्रेस और भाजपा का सीधा मुक़ाबला है. भाजपा ने चुनाव में जीत सुनिश्चित करने के लिए अपने सभी बड़े नेताओं को उतार दिया है जबकि कांग्रेस ने क्षेत्रीय नेताओं को ही ज़िम्मेदारी दी है. ऐसा कहा जा रहा है कि भाजपा का प्रचार भी कांग्रेस से ज़्यादा है लेकिन कांग्रेसी समर्थक कहते हैं कि जीत उनकी ही होगी.

Leave a Reply

Your email address will not be published.