गुजरात चुनाव: 7 ज़िलों में नहीं खुला BJP का खाता, 8 ज़िलों में मिली एक-एक सीट

December 20, 2017 by No Comments

गांधीनगर: भाजपा ने गुजरात में विधानसभा चुनाव जीत लिया है लेकिन ये जीत कई मायनों में बहुत कमज़ोर है. पार्टी 99 सीट हासिल करके किसी तरह बहुमत की सरकार बनाने में कामयाब तो हो जायेगी लेकिन ये कामयाबी उम्मीद के मुताबिक़ बिलकुल भी नहीं है. जहां 2014 के लोकसभा चुनाव में भाजपा ने 26 की 26 सीटें जीती थीं इस बार उसे कई ज़िलों में बुरी स्थिति देखने को मिली है.

भाजपा को 7 ज़िलों में एक भी सीट हासिल नहीं हुई है जो पार्टी के लिए बड़ी चिंता की बात है, इतना ही नहीं 8 ऐसे ज़िले हैं जहाँ महज़ एक-एक सीट पार्टी को मिली है.अगर इन नतीजों को बारीकी से देखा जाए तो ऐसा लगता है कि भाजपा अपना गढ़ बचाने में कामयाब तो हो गयी है लेकिन एक बड़ी सेंध इस गढ़ में कांग्रेस ने लगा दी है. जिन ज़िलों में भाजपा को एक भी सीट नहीं मिली है वो हैं मोरबी, अमरेली, गीर-सोमनाथ, नर्मदा, डांग, तापी, अरावली. पोरबंदर, सुरेन्द्रनगर, बोटाद, देवभूमि द्वारका, जूनागढ़, पाटण, महिसागर और छोटा उदेपुर में कुल 26 विधानसभा सीटें हैं लेकिन भाजपा को यहाँ हर ज़िले से एक-एक सीट मिली है. यानी भाजपा 26 में से महज़ 8 सीट ही जीत सकी है और कांग्रेस ने 18 सीटें यहीं से जीत ली हैं.

कांग्रेस की इस कामयाबी की वजह पार्टी अध्यक्ष राहुल गाँधी की नेतृत्व क्षमता को बताया जा रहा है. जानकारों के मुताबिक़ भले ही पार्टी बहुमत से कुछ दूर रह गयी लेकिन जो वापसी कांग्रेस ने की है वो राहुल की कैंपेन की ही देन है.इससे भाजपा को भी समझने की ज़रुरत है कि अगर उनके विशेष गढ़ को बचाने के लिए उन्हें इतनी मुश्किलें आयी हैं तो 2019 का लोकसभा चुनाव आसान नहीं रहने वाला.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *