भाजपा की ख़ुशियों पर फिरा पानी, राहुल ने दिया बड़ा बयान

October 5, 2018 by No Comments

इन दिनों कांग्रेस चुनाव से पहले विपक्ष को एक जुट करने मे लगी हुई है। ताकि बीजेपी को हराया जा सके। कांग्रेस यह बात भली भांति जानती है कि नरेंद्र मोदी और अमित शाह के विजय रथ को रोकने के सभी विपक्षी दलों को एक साथ लाना होगा। इसके लिए लगातार महागठबंधन की कोशिश की जा रही है। लेकिन यह इतना आसान भी नहीं है।

सभी क्षेत्रीय दलों की अपनी अपनी अपेक्षाएं होती हैं ,जिनके कारण टकराव की स्थिति उत्पन्न हो जाती है। ऐसा ही कुछ देखने को मिला जब बीएसपी प्रमुख मायावती ने मध्यप्रदेश और राजस्थान चुनाव के लिये कांग्रेस के साथ गठबंधन से इंकार कर दिया। जानकारों का मानना है उनका यह निर्णय भाजपा के खिलाफ विपक्ष के महागठबंधन बनाने के प्रयासों को लिये बड़ा झटका हो सकता है।हालांकि कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ऐसा नहीं मानते ।

उनका कहना है कि कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करने के बसपा प्रमुख मायावती के फैसले का कांग्रेस की संभावनाओं पर कोइ असर नहीं पड़ेगा। उनका मानना है गठबंधन के दरवाज़े अभी बंद नहीं हुए हैं । उन्होंने 2019 के लोकसभा चुनाव में बसपा और कांग्रेस कछ साथ आने की उम्मीद जताई । हिंदुस्तान टाइम्स लीडरशिप समिट में बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा कि उन्हें नहीं लगता कि मध्य प्रदेश में बसपा के गठबंधन नहीं करने से कांग्रेस पर कोई विपरीत असर हो रहा है।

उनके आगे कहा कि राज्य में गठबंधन और केंद्र के स्तर पर गठबंधन में बहुत अंतर होता है। उन्होंने माना राज्य में उनका रुख लचीला था। आप को बता दें कि मायावती ने कुछ दिनों पहले ही कहा था कि वह मध्यप्रदेश और राजस्थान के विधानसभा चुनावों में कांग्रेस के साथ गठबंधन नहीं करेगी।उनका कहना था कि राहुल गांधी और स सोनिया गांधी गठबंधन के पक्ष में थे, लेकिन कांग्रेस के कुछ ‘वरिष्ठ नेताओं ने कारण गठबंधन नहीं हो पाया। हिंदुस्तान टाइम्स लीडरशिप समिट में बोलते हुए राहुल गांधी ने यह भी उम्मीद जताई कि मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, राजस्थान और तेलंगाना के आगामी विधानसभा चुनावों में कांग्रेस जीत हासिल करेगी।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *