भाजपा नेताओं को गाँव-किसान से चिढ़ होती है: समाजवादी पार्टी

January 3, 2018 by No Comments

समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय सचिव राजेंद्र चौधरी ने आज कहा कि मौजूदा राज्य सरकार और केंद्र सरकार दोनों ही किसानों की कोई चिंता नहीं कर रही हैं. इसको लेकर उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के गन्ना किसान और आलो किसान बदहाल हैं. उन्होंने कहा कि भाजपा ने अपने वादों को नहीं निभाया है. चौधरी ने कहा कि भाजपा ने वादा किया था कि वो आलो किसानों की फ़सल को बर्बाद नहीं होने देगी लेकिन आजकल वादाख़िलाफ़ी का दौर है.

उन्होंने कहा कि भाजपा ने कहा था कि गन्ना किसानों का बक़ाया उनकी सरकार बनने के तुरंत बाद ही मिल जाएगा लेकिन इन वादों की अब भाजपा को कोई फ़िक्र नहीं है.उन्होंने कहा,”उत्तर प्रदेश में सरकारी आंकड़ों के मुताबिक गन्ना मिलों ने 1254 करोड़ के गन्ने से 1800 करोड़ रूपए से अधिक की चीनी का उत्पादन किया हैं। मिलों पर किसानों की बड़ी धनराशि बक़ाया है.” वो कहते हैं कि चीनी मिल मालिकों को सरकार का कोई डर नहीं है..और मौजूदा सरकार कोई कार्यवाही करती नहीं नज़र आ रही है. उन्होंने कहा,”सरकार की हीलाहवाली से चीनी उद्योग अपनी मनमानी पर उतारू है.”समाजवादी नेता ने कहा कि जबकि ये चीनी के अलावा भी कई उत्पाद से कमाई कर रही हैं लेकिन किसानों को देने के लिए इनके पास कोई पैसा नहीं है.

चौधरी ने कहा,”भाजपा सरकार ने न्यनूतम समर्थन मूल्य पर आलू ख़रीद का भरोसा देकर किसानों के साथ ज़बर्दस्त धोका किया है। किसान आलू की फसल उगाने में जितनी लागत लगाता है, उतनी भी उसे न मिले तो फिर किसान बेचारा अपनी बर्बादी पर रोये न तो क्या करे।”उन्होंने कहा कि अखिलेश यादव सरकार में गन्ना समर्थन मूल्य 40 रूपये दिया गया था और बक़ाये की अदायगी के लिए भी बड़ी मदद की गयी थी..भाजपा नेताओं को गाँव-किसान से कोई लेना देना नहीं है बल्कि ये किसानों से चिढ़ते हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *