भाजपा नेता ने साधा मोदी सरकार पे निशाना-‘यहाँ आर्थिक नीतियाँ 2.5 लोग चलाते हैं..अमित शाह, मोदी और…?’

नई दिल्ली: भारतीय जनता पार्टी के वरिष्ट नेता और पूर्व केन्द्रीय मंत्री अरुण शौरी ने भी केंद्र सरकार के पिछले साल नवम्बर में लिए गए “नोटबंदी” के फ़ैसले की आलोचना की है.

उन्होंने एक समाचार चैनल NDTV से बात करते हुए कहा कि नोटबंदी सबसे बड़ा मनी लाउंड्रिंग घोटाला है. उन्होंने कटाक्ष करते हुए कहा कि ये सरकार इल्हाम पर चलती है, प्रधानमंत्री को एक रात को इल्हाम आया कि नोटबंदी होनी चाहिए और उन्होंने इसे कर दिया. उन्होंने कहा जिस तरह सुसाइड एक बोल्ड स्टेप है ये भी बोल्ड स्टेप ही था.

उन्होंने साथ ही कहा कि ये सबसे बड़ा मनी लाउंड्रिंग घोटाला है जिसे पूरी तरह से केंद्र सरकार ने किया है. उन्होंने साथ ही बताया कि इसके ज़रिये लोगों ने अपना काला धन सफ़ेद कर लिया है.

शौरी ने GST की तारीफ़ की लेकिन इसके लागू करने के तरीक़ों को बहुत ख़राब बताया. शौरी ने सरकार की आलोचना करने वालों को भाजपा द्वारा कुंठाग्रस्त क़रार देने पर कहा कि भाजपा को पहले ऐसे लोगों की लिस्ट जारी कर देना चाहिए जो उन्हें कुंठाग्रस्त लगते हैं.

केंद्र सरकार की आर्थिक नीतियों को ग़लत क़रार देते हुए उन्होंने कहा कि देश की एहम आर्थिक नीतियां एक बंद कमरे में 2.5 लोग तय कर रहे हैं. उन्होंने अमित शाह, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इलावा वित्त मंत्री अरुण जेटली को इसमें शामिल किया है और जेटली को आधा व्यक्ति क़रार दिया है.

शौरी ने वरिष्ट भाजपा नेता यशवंत सिन्हा की टिपण्णी का भी समर्थन किया. शौरी ने GST जैसे सुधार को आज़ादी से जोड़े जाने पर आश्चर्य जताया.

गौरतलब है कि पिछले दिनों भाजपा के अन्दर से ही केंद्र सरकार की नीतियों की आलोचना हो रही है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.