BJP-RSS कार्यकर्ताओं के इशारे पर हुई भागलपुर हिंसा, बीजेपी नेता के बेटे पर मामला दर्ज

March 20, 2018 by No Comments

बिहार के भागलपुर में बीते शनिवार को एक धार्मिक जुलूस के दौरान भड़की हिंसा मामले में केंद्रीय मंत्री अश्विनी चौबे के बेटे और बीजेपी नेता अरिजीत चौबे के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। शनिवार को भागलपुर के चंपानगर में विक्रम संवत जुलूस को लेकर दो समुदायों के बीच झड़प के बाद दंगा भड़क गया था। दोनों गुटों में हुई पत्थरबाज़ी के चलते पांच पुलिसकर्मी समेत 20 से ज्यादा लोग घायल हो गए थे।

पुलिस ने इस मामले में दो एफआईआर दर्ज की हैं। एक मामला बिना इजाजत जुलूस निकालने का है। वहीं दूसरा उपद्रव मचाने और हिंसा फैलाने का है। इस मामले में बीजेपी नेता अर्जित चौबे समेत कई बीजेपी नेताओं को आरोपी बनाया गया है। इन पर बगैर इजाजत जुलूस निकालने का आरोप है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक सांप्रदायिक हिंसा और तनाव बीजेपी, दक्षिणपंथी संगठनों, आरएसएस और बजरंग दल के कार्यकर्ताओं के भड़काऊ नारेबाजी के बाद शुरू हुआ। जिसका नेतृत्व अरिजीत चौबे कर रहे थे। इस मामले में 8 आरोपियों, अरिजीत चौबे, देवकुमार पांडे, अनुपलाल साह, प्रणव साह, अभय घोष सोनू, प्रमोद शर्मा, निरंजन सिंह और संजय भट् के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

वहीँ दूसरा मामला उपद्रव मचाने वाले करीब 500 अज्ञात लोगों के खिलाफ दर्ज किया गया है। इनके खिलाफ मारपीट, पत्थरबाजी, फायरिंग व सांप्रदायिक सदभावना को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया गया है।

आपको बता दें कि भागलपुर के नाथनगर में शनिवार को एक जुलूस को लेकर दो समुदायों के बीच हुई हिंसक झड़प हुई थी। यह मुस्लिम बहुल इलाका है। शनिवार को हिंदू कैलेंडर विक्रम संवत को लेकर जुलूस निकाला जा रहा था। बताया जा रहा है कि जुलूस का स्थानीय लोगों ने विरोध किया। दोनों समूहों में पहले बहस हुई, जिसने बाद में हिंसा की शक्ल ले ली। कुछ शरारती तत्वों ने वाहनों को आग के हवाले कर दिया और दुकानों में भी तोड़फोड़ की गई।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *