गुजरात में 11 सीटों पर चुनाव लड़ रही ‘आप’ पूरे राज्य में बीजेपी के खिलाफ करेगी प्रचार

गांधीनगर: गुजरात विधानसभा चुनाव में बीजेपी और कांग्रेस के साथ इस बार आम आदमी पार्टी भी चुनावी दंगल में उतरी है। आम आदमी पार्टी गुजरात में 11 सीटों पर चुनाव लड़ रही है। लेकिन बीजेपी के खिलाफ उन्होंने सभी सीटों पर प्रचार करने का फैसला लिया है। इस मामले में आप की गुजरात इकाई के प्रभारी ने साफ़ किया है कि गुजरात विधानसभा की 182 सीटों में से 11 पर ही लड़ने की घोषणा की है।
संवाददाताओं से अनौपचारिक बातचीत में उन्होंने बताया है कि पार्टी उम्मीदवारों के चयन पर अभी हर सीट के लिये अलग घोषणापत्र बना रही है। उन्होंने कहा कि पार्टी ने गुजरात विधानसभा चुनाव लड़ने का विचार पंजाब विधानसभा चुनाव से पहले बना लिया था। लेकिन आप ने राज्य में चुनाव प्रचार बहुत देर से शुरू किया है। अब पार्टी कार्यकर्ता राज्य में कैंपेनिंग कर रहे हैं और लोगों से उनकी समस्याओं पर बातचीत कर रहे हैं।
इस के बाद ही सभी 11 सीटों के लिए पहले घोषणापत्र जारी होगा और इसके तुरंत बाद जनता की राय से ही इन सीटों पर उम्मीदवार मैंदान में उतारे जाएंगे। इसके साथ गोपाल राय ने राज्य में बीजेपी के खिलाफ बिगुल बजा रही कांग्रेस को आगाह करते हुए कहा कि गुजरात में बीजेपी के खिलाफ लोगों में खासा गुस्सा है।

लेकिन कांग्रेस चुनाव सही ढंग से नहीं कर रही है। आम आदमी पार्टी को लगता है कि कांग्रेस जिस तरह से चुनाव प्रचार कर रही है, वह गुजरात में बीजेपी को घेरने के लिए बहुत कमजोर साबित हो रहा है। इसलिए पार्टी ने फैसला लिया है कि बीजेपी के खिलाफ राज्य की जनता को आगाह करने लिए पार्टी भले ही 11 सीटों पर चुनाव लड़े, लेकिन चुनाव प्रचार पूरे राज्य में करेगी।

इससे पहले भी आम आदमी पार्टी कांग्रेस पर हमलावर रही है। आप ने कांग्रेस पर आरोप लगाया था कि पार्टी उसके नेताओं को टिकट का लालच देकर तोड़ रही है। गौरतलब है कि हाल ही में गुजरात में आप के कई नेता 200 कार्यकर्ताओं के साथ कांग्रेस में शामिल हुए थे।
इन नेताओं में प्रदेश महिला मोर्चा प्रमुख वंदना पटेल के अलावा अहमदाबाद, खेड़ा, मेहसाणा और राजकोट के पार्टी प्रभारी रितुराज मेहता, हसमुख पटेल, लालूभाई बड़िवाल, अंकुर धमेलिया और तुषार जानी शामिल हैं। इस मामले में राजनीतिक विश्लेषकों का कहना है कि इससे प्रदेश में भारतीय जनता पार्टी को फ़ायदा होगा।

 

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.