चुनाव से पहले भाजपा को लगा ज़ोर का झटका

October 13, 2018 by No Comments

रायपुर: छत्तीसगढ़ में इस साल के अंत में विधानसभा चुनाव होने हैं. इस बारे में तारीख़ों की घोषणा भी हो गयी है.चुनावी पंडितों की मानें तो मुख्य मुक़ाबला कांग्रेस और भाजपा के बीच होना है. यहाँ भाजपा की सरकार है और रमण सिंह मुख्यमंत्री हैं.

जैसे-जैसे चुनाव नज़दीक आ रहे हैं चुनावी खेल मज़ेदार हो रहा है. क्षेत्रीय जानकार मानते हैं कि इस बार चुनाव में कांग्रेस और भाजपा के बीच क़रीबी लड़ाई होगी. इस बीच हम आपको एक ऐसी ख़बर सुनाने जा रहे हैं जो भाजपा के लिए बुरी और कांग्रेस के लिए अच्छी मानी जा सकती है. वरिष्ट पत्रकार रुचिर गर्ग ने कांग्रेस पार्टी ज्वाइन कर ली है.

गर्ग के बारे में अगर हम बताएँ तो वो एडिटर्स गिल्ड ऑफ़ इंडिया के भी सदस्य थे. वो कई मीडिया संस्थानों में काम कर चुके हैं और कुछ दिन पहले तक वो नवभारत के सम्पादक थे. उनके अलावा किसान नेता राम कुमार यादव ने भी कांग्रेस में शामिल होने की घोषणा की.

उन्होंने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी से मिलने के बाद कांग्रेस में शामिल होने का फ़ैसला किया. रुचिर गर्ग के कांग्रेस में शामिल होने से ऐसा माना जा रहा है कि मध्य प्रदेश में कांग्रेस मज़बूत होगी. वहीं छग कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष रामदयाल उईके ने कांग्रेस का दामन छोड़ दिया है और भाजपा में शामिल हो गए हैं. बिलासपुर में रामदयाल उइके ने मुख्यमंत्री रमन सिंह और अमित शाह से पार्टी की सदस्यता ग्रहण की.

छत्तीसगढ़ में कुल 91 विधानसभा सीटें हैं. इस समय यहाँ भाजपा की 49 सीटें हैं जबकि कांग्रेस की 39, एक सीट बसपा और एक निर्दलीय के खाते में गयी थी.छत्तीसगढ़ में आगामी 12 नवम्बर और 20 नवम्बर को वोट डाले जायेंगे, मतगणना 11 दिसम्बर को होगी. ये चुनाव बहुत अहम् माने जा रहे हैं, इसकी प्रमुख वजह ये भी है कि इन चुनावों के बाद अगली साल लोकसभा चुनाव होंगे.

यहाँ कांग्रेस और भाजपा के अलावा बसपा भी मज़बूत पार्टी है. इन चुनावों को लेकर अभी तक जो सर्वे आये हैं उसमें कांग्रेस पार्टी की स्थिति को मज़बूत माना जा रहा है. चुनावी परिणाम क्या होते हैं ये तो तब पता चलेंगे जब वोट पड़ेंगे और वोटों की गिनती शुरू होगी.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *