PM मोदी ने दी थी चुनौती, चिदंबरम ने इस तरह दे दिया ज़बरदस्त जवाब

November 18, 2018 by No Comments

नई दिल्ली : पूर्व वित्तमंत्री व कांग्रेस के कद्दावर नेता पी चिदंबरम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के बयान कांग्रेस को एक गैर-गांधी पार्टी अध्यक्ष नियुक्त करने की चुनौती दी तो शनिवार को कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने मोदी को गांधी परिवार से बाहर के अब तक हुए कांग्रेस अध्यक्षों के नाम गिनाकर निशाना साधा है। उन्होंने गांधी परिवार से बाहर से अध्यक्ष बने नेताओं की सूची भी जारी करके बताया है। दरअसल चिदंबरम ने सिलसिलेवार ट्वीट में कहा कि वह प्रधानमंत्री जी के “आभारी” हैं कि जो प्रधानमंत्री इस बात को लेकर चिंतित हैं कि कौन कांग्रेस अध्यक्ष के तौर पर निर्वाचित हुआ है। साथ ही सवाल किया कि क्या मोदी अपने भाषणों का आधा समय नोटबंदी, जीएसटी, राफेल, सीबीआई, और आरबीआई पर बोलने में भी लगाएंगे या फिर कांग्रेस पार्टी की कमियां ही गिनाने में व्यस्त रहेंगे?

पूर्व वित्तमंत्री पी चिदंबरम ने कहा “प्रधानमंत्री मोदी की याददाश्त सही करने के लिए बता दूं कि सन 1947 के बाद से कांग्रेस अध्यक्ष आचार्य कृपलानी, कामराज, निजलिंगप्पा, सी. सुब्रमण्यम, जगजीवन राम, शंकर दयाल शर्मा, डी.के. बरुआ, पट्टाभि सीतारमैया, पुरुषोत्तम दास टंडन, यू.एन. धेबर, संजीव रेड्डी, संजीवैया, बह्मानंद रेड्डी, पी.वी. नरसिम्हा राव और सीताराम केसरी रह चुके हैं” चिदंबरम ने आगर बढ़ते हुए यह भी कहा कि कांग्रेस को आजादी के बाद के अपने नेताओं बाबासाहेब अंबेडकर, लाल बहादुर शास्त्री, कामराज, मनमोहन सिंह व कई अन्य नेताओं पर नाज है और आजादी से पहले के अपने हजारों नेताओं पर गर्व है जो देश को आज़ादी दिलाने के लिए शहीद हो गए और देश के लिए अपनी जान न्योछावर कर दिया।

पी चिदंबरम ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए कहा कि “मैं प्रधानमंत्री जी का आभारी हूं कि प्रधानमंत्री मोदी इस बात को लेकर चिंतित हैं कौन कांग्रेस अध्यक्ष के रूप में चुना गया और इस बारे में बात करने के लिए उनके पास काफी समय भी है, लेकिन क्या वह नोटबंदी, जीएसटी,राफेल, सीबीआई और आरबीआई के बारे में बोलने पर अपने भाषणों का आधा समय भी लागाएंगे या सिर्फ कांग्रेस की कमियों का ही रोना रोयेंगे ? आगे बढ़ते हुए पी चिदंबरम ने कहा, “क्या प्रधानमंत्री मोदी किसान आत्महत्या, भीषण बेरोजगारी, भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मार डालने, दुष्कर्म, महिलाओं व बच्चों के विरुद्ध अपराध, एंटी रोमियो टीम व गौरक्षकों के हमले और बढ़ती आतंकी घटनाओं के बारे में कुछ बोलेंगे या उनपर कोई कार्रवाई करने का आदेश देंगे ?

दरअसल आपको बता दें कि कांग्रेस सांसद शशि थरूर ने कहा था कि एक चायवाला प्रधानमंत्री इसलिए बन सका, क्योंकि जवाहरलाल नेहरू लोकतंत्र के लिए प्रतिबद्ध थे, उन्होंने लोकतंत्र को मजबूत किया, और यही वजह है कि मोदी आज प्रधानमंत्री हैं। शशि थरूर के इस बयान के बाद ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कांग्रेस पर निशाना साधा था जिसका पलटवार करते हुए कांग्रेस नेता पी चिदंबरम ने उन्हें जवाब दिया था।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *