कांग्रेस ने भाजपा को उसी की चाल से हराया, दो विधायको समेत दर्जन भर नेता कांग्रेस में शामिल

January 31, 2019 by No Comments

हेलो दोस्तों, देश में लोकसभा चुनाव से पहले हो रहे आखरी उपचुनाव के लिए जींद में मतदान चल रहा है ।इंडियन नेशनल लोकदल के विधायक हरीश चंद्र मिड्ढा के निधन के बाद यहां पर उप चुनाव कराए जा रहे हैं। इस उपचुनाव में 2 महिला उम्मीदवारों के साथ 21 उम्मीदवार चुनाव मैदान पर है. इसमें से तरुण, भाजपा के कृष्ण लाल मिड्ढा, कांग्रेस के राह दीप सिंह सुरजेवाला और उम्मीद सिंह शामिल है.
दोस्तों जींद विधानसभा सीट पर सबसे ज्यादा बार जीत दर्ज करने वाली कांग्रेस के बारे में कहा जा रहा है कि कांग्रेस ने इस बार जींद विधानसभा में पहले से ही हार मान चुकी है. दोस्तों जींद विधानसभा में अभी तक सबसे ज्यादा बाद जीतने वाली पार्टी कांग्रेस ही है लेकिन कांग्रेस के प्रभारी गुलाम नबी आजाद के बयानों को सुनने से यह लग रहा है कि इस बार कांग्रेस नें चुनाव के परिणाम आने से पहले हार मान ली है.

google


गुलाम नबी आजाद का कहना है कि इस बार कांग्रेस जींद विधानसभा सीट पर काफी कमजोर रही है। गुलाम नबी आजाद के बयान को सुनकर नहीं लग रहा है जैसे उनको कांग्रेस कार्यकर्ताओं के प्रदर्शन पर शक है. आपको बता दें की जींद विधानसभा सीट पर 1967 से लेकर 2005 तक होने वाले चुनावों में कांग्रेस ने 5 बार यहां पर जीत दर्ज की है। और इस जीत में सबसे ज्यादा योगदान मांगेराम गुप्ता का है.
मांगेराम गुप्ता ने इस सीट से तीन बार चुनाव लड़ा और जीत हासिल की।और भारी मतों से जीत दर्ज की. गुलाम नबी आजाद से मिलने कांग्रेस के कई विधायक दिल्ली पहुंचे ।विधायकों ने गुलाम नबी आजाद के साथ हरियाणा की राजनीतिक हालात पर चर्चा की और अपनी राय में यह बताया कि हरियाणा में अगर कांग्रेस को वापस सत्ता में लाना है तो उनको भूपेंद्र सिंह चड्ढा को जिम्मेदारी देनी होगी.

google


आपको बता दें जींद विधानसभा क्षेत्र में कुल 171113 मतदाता है जिसमें करीब 80000 महिलाएं हैं क्षेत्र में कुल 158 मतदान केंद्र बनाए गए हैं. कांग्रेस पूरी कोशिश कर रही है कि इस उपचुनाव में उसको जीत मिल जाए। अब तो 31 तारीख को जब चुनाव के नतीजे आएंगे तब पता चलेगा कि हरियाणा में जनता किसके साथ है.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *