कांग्रेस ने अजहरुद्दीन की उम्मीदों पर पानी फिरा

March 20, 2019 by No Comments

आगामी लोकसभा चुनाव के चलते हर दिन ने सियासी समीकरण देखने को मिल रहे हैं।बीते दिनों ये खबर काफी जोर पकड़े हुई थी कि हैदराबाद लोकसभा चुनाव में कांग्रेस भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी मोहम्मद अजहरुद्दीन को टिकट दे सकती हैं।दरअसल,कांग्रेस ने तेलंगाना में सभी 17 लोकसभा सीटों के लिए अपने उम्मीदवारों का चयन कर लिया है।
पूर्व क्रिकेटर मोहम्मद अजहरुद्दीन ने हैदराबाद की सिकंदराबाद लोकसभा सीट से लोकसभा चुनाव लड़ने की उम्मीद लगाई हुई थी।गौरतलब है कि अजहरुद्दीन बीते काफी समय से पार्टी में दरकिनार किए जा रहे हैं।लेकिन हैदराबाद में उनकी लोकप्रियता काफी है।जिसके चलते ऐसा अंदाजा लगाया जा रहा था कि कांग्रेस उन्हें हैदराबाद से टिकट दे सकती है।
अब खबर सामने आ रही है कि कांग्रेस मोहम्मद अजहरुद्दीन की उम्मीदों पर पानी फेरते हुए सिकंदराबाद लोकसभा सीट से उम्मीदवारी के लिए पार्टी नेता अजय कुमार यादव के नाम पर मुहर लगा दी है।राजनीतिक सूत्रों की माने तो तेलंगाना विधानसभा चुनाव के दौरान पार्टी ने मोहम्मद अजहरुद्दीन को लोकसभा सीट सिकंदराबाद से टिकट देने का ऐलान किया था।

मोहम्मद अजहरुद्दीन


इसके बाद कांग्रेस ने उन्हें तेलंगाना कांग्रेस का कार्यकारी अध्यक्ष बना दिया था।लेकिन अब पार्टी ने जो कदम उठाया है।लोकसभा चुनाव 2019 के लोकसभा चुनाव के चलते अजहरुद्दीन को उम्मीद थी कि पार्टी लोकसभा चुनाव के समय उन्हें उचित सम्मान देते हुए सिकंदराबाद सीट से उम्मीदवार बना सकती है।
लेकिन पार्टी ने उनकी उम्मीदों पर पानी फेर दिया है।जिसके बाद अजहरुद्दीन नाराज चल रहे हैं।हाल ही में हुए तेलंगाना विधानसभा चुनाव में अजहरुद्दीन ने बढ़ चढ़ कर चुनाव प्रचार किया था।माना जा रहा है कि वह जल्दी टीआरएस का हाथ थाम सकते हैं।बता दें कि सिकंदराबाद लोकसभा सीट अभी भाजपा नेता बंडारू दत्तात्रेय के पास है।

मोहम्मद अजहरुद्दीन


वहीँ माना जा रहा था कि हैदराबाद में अजहरुद्दीन लोकसभा चुनाव में एआईएमआईएम अध्यक्ष असदुद्दीन ओवैसी का सामना करने में असमर्थ हैं।AIMIM के प्रमुख ओवैसी लंबे समय से हैदराबाद लोकसभा सीट से जीत हासिल कर रहे हैं।साल 2009 के लोकसभा चुनाव में अजहरुद्दीन ने उत्तर प्रदेश की मुरादाबाद लोकसभा सीट से चुनाव लड़ा था और जीता था।लेकिन 2014 लोकसभा चुनाव में वह राजस्थान की टोंक माधोपुर सीट से हार गए थे।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *