BJP की शह पर बोल रहे हैं रविशंकर, त्रिपुरा में BJP वही खून खराबा कर रही है

March 6, 2018 by No Comments

अयोध्या मामले में आर्ट ऑफ़ लिविंग के संस्थापक श्री श्री रविशंकर ने जो बयान दिया है उसकी चौतरफा निंदा हो रही है। श्री श्री रविशंकर का कहना है कि अगर अयोध्या में राम मंदिर विवाद को सुलझाया नहीं गया तो भारत सीरिया बन जाएगा।  श्री श्री रविशंकर ने ये बातें न्यूज़ चैनल इंडिया टुडे और एनडीटीवी को दिए इंटरव्यू के दौरान कहते हुए मंदिर के पक्ष में फैसला न आने पर खून खराबे की भी चेतावनी दे डाली है।
उन्होंने मुस्लिमों को सद्भावना दिखाते हुए अयोध्या पर अपना दावा छोड़कर मिसाल पेश करने की सलाह दी है। उन्होंने कहा है की अयोध्या मुस्लिमों की आस्था का स्थान नहीं है। मीडिया से बातचीत में सभी पक्षों से अपील की कि इस देश के भविष्य को ऐसे चंद लोग जो संघर्ष को ही अपना अस्तित्व समझते हैं उनके हवाले मत कीजिए। श्री श्री रविशंकर का ये बयान विपक्षी दलों को नागवार गुज़रा है। इस मामले में कांग्रेस ने केंद्र सरकार से जवाब माँगा है।

जनता का रिपोर्टर की खबर के मुताबिक, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता और पार्टी प्रवक्ता अखिलेश प्रताप सिंह ने रविशंकर के इस बयान पर प्रधानमंत्री मोदी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह से स्पष्टिकरण मांगा है। उन्होंने कहा है की एक संत को ऐसी भाषा शोभा नहीं देती। वह जो खून खराबे की बात कर रहे हैं त्रिपुरा में बीजेपी वही कर रही है। ये बीजेपी के काफी करीबी है। इनके विचारों पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और गृह मंत्री राजनाथ सिंह को स्पष्टीकरण देनी चाहिए।
इस मामले में समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता कीर्ति निधि पांडे ने कहा कि रविशंकर इस मामले में जिस तरह से वकालत कर रहे हैं, सुप्रीम कोर्ट को इस पर संज्ञान लेनी चाहिए। श्रीश्री रविशंकर सरेआम भारत के 20 करोड़ मुसलमानों को धमकी दे रहे हैं। पांडे का दावा है कि रविशंकर के पीछे बीजेपी सरकार खड़ी है और अगले साल होने वाले लोकसभा चुनाव के मद्देनजर वोटो का ध्रुवीकरण किया जा रहा है। लोकसभा चुनाव से पहले रविशंकर को आगे कर अभी से सांप्रदायिक माहौल बनाने की कोशिश की जा रही है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *