नई रणनीति के साथ चुनाव लड़ेगी कांग्रेस, छत्तीसगढ़ में होगा अहम् प्रयोग

March 8, 2018 by No Comments

देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस पार्टी है और आज़ादी के बाद से देश की सत्ता पर सबसे अधिक समय तक किसी दल का क़ब्ज़ा रहा है तो वो कांग्रेस ही है. आज़ादी के बाद हुए कई चुनावों को कांग्रेस ने आसानी से जीता है तो कई चुनाव में वो मुश्किल से जीत सकी है और कुछ एक चुनाव वो हारी भी है. देखा जाए तो कांग्रेस का बुरा दौर 2014 से शुरू हुआ है. 2014 के लोकसभा चुनाव हारने के बाद से ही पार्टी को कई राज्यों में भारी शिकस्त का सामना करना पड़ा था लेकिन जानकार ये मानते हैं कि पिछले एक साल में कांग्रेस में नया उदय आया है. कांग्रेस अब अपने अन्दर ज़रूरी बदलाव कर रही है.

इन्हीं बदलावों के ज़रिये कांग्रेस ने गुजरात विधानसभा चुनाव में अच्छा प्रदर्शन किया वहीँ कई उपचुनाव पार्टी ने बहुत अच्छी तरह से जीते. अब सुनने में आ रहा है कि छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव में कांग्रेस नई रणनीति अपनाएगी. कांग्रेस की ये रणनीति भाजपा को टक्कर देने के लिए होगी. इस बार के विधानसभा चुनाव में भाजपा की स्थिति बहुत अच्छी नज़र नहीं आ रही है. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी ने इस प्रकार के संकेत दिए है कि पार्टी अब राज्य में चुनाव का पैटर्न बदलेगी.

ऐसा माना जा रहा है कि पार्टी अब उमीदवार के नाम पर चुनाव नहीं लड़ेगी बल्कि कैडर बेस्ड चुनाव लड़ेगी. कांग्रेस अपने संघठन को मज़बूत करेगी. राहुल गाँधी के नेतृत्व में इस फ़ैसले को लेने का मतलब यही है कि अब पार्टी ने आरएसएस से भी लड़ने को लेकर कमर कस ली है. कांग्रेस के अंदरूनी सूत्र बताते हैं कि ये एक प्रयोग होगा जिसे पार्टी छोटे राज्यों के ज़रिये शुरू करेगी. इस बारे में पार्टी के छत्तीसगढ़ अध्यक्ष का कहना है कि नए फार्मूले पर कांग्रेस ने रणनीति बनानी शुरू कर दी है

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *