डॉ कफ़ील अहमद को बलि का बक़रा बनाया जा रहा है: AIIMS एसोसिएशन

नई दिल्ली: गोरखपुर मेडिकल कॉलेज में बच्चो की ऑक्सीजन से कमी की मौतों पर योगी सरकार ने कॉलेज के प्रिंसिपल राजीव मिश्रा और अस्तपताल के बाल विभाग के अध्यक्ष डाक्टर कफील खान को हटा दिया है.

गौरतलब है पहले मीडिया में डाक्टर कफील खान की बाहर से अपने खर्चे पर सिलिंडर लाने के लिए तारीफ भी हुई थी लेकिन कल एकाएक उनको बल विभाग के पद से मुक्त कर दिया.ध्यान देने वाली बात है कि एक तरफ कफील खान का जैसे ही कार्यवाही हुई ठीक वैसे ही मीडिया में उनके बारे नकारत्मक खबरे भी वायरल हुई है.
लेकिन डाक्टर कफील खान पर कार्यवाही के बाद दिल्ली के AIIMS के डाक्टरों ने कफील खान का समर्थन किया. AIIMS के डाक्टरों एसोसिएशन के अध्यक्ष डाक्टर हरजीत सिंह भट्टी ने योगी सरकार द्वारा डाक्टर कफील खान को उनके पद से हटाये जाने की निंदा की है.

उन्होंने कहा है कि डाक्टरों को बलि का बकरा बना कर राजनेता अपने दोषों को छुपा रहे है,भट्टी ने कहा कि जब हॉस्पिटल में पेमेंट के वज़ह से ऑक्सीजन ही नही थी फिर कोई डाक्टर क्या कर सकता था.भट्टी ने कहा कि वो मान रहे है कि डाक्टर की ज़िम्मेदारी निभाने में भी कोई कमी रह सकती है लेकिन गोरखपुर मेडिकल कॉलेज की घटना के लिए एक या दो और सिर्फ़ हॉस्पिटल ही ज़िम्मेदार नही है.

भट्टी ने कहा कि इस घटना में सरकारी विभाग भी ज़िम्मेदार है एक निष्पक्ष जांच होना चाहिए सिर्फ़ एक या दो डाक्टर पर ज़िम्मेदारी डालना उचित नही है.

साभार: www.headline24hindi.com

Leave a Reply

Your email address will not be published.