एक लड़की ने मुस्लिम दाढ़ी पर सवाल किया उसके बाद जनरल ने करारा जवाब दिया

December 7, 2018 by No Comments

दोस्तों आज हम दाढ़ी पर बात करेंगे दोस्तों दाढ़ी इस देश में बवाल का सबब बन सकती थी 25 दिसंबर को दिल्ली में एक घटना हुई जिसके बाद देश में दाढ़ी पर बवाल हो सकता था लेकिन यह मामला किस तरह शांत हुआ और यह मामला जिस तरह शांत हुआ उस बात को जब आप जानेंगे तो आप का सीना चौड़ा हो जाएगा तू दोस्तों आइए आपको बताते हैं दोस्तों यह कहानी शुरू होती है दिल्ली की यूनिवर्सिटी से जहां पर एक लड़की ने ट्वीट किया.
दोस्तों इस लड़की का नाम कंवलप्रीत कौर है इन्होंने 25 दिसंबर के दिन यानी कि क्रिसमस डे के दिन एक ट्वीट किया और साथ में एक तस्वीर शेयर की जिसमें कुछ लड़कों ने दाढ़ी बढ़ा रखी है कमलप्रीत कौर ने इस ट्वीट में कहा कि 25 दिसंबर के दिन 10 लड़कों को एनसीसी के कैंप से इसलिए बाहर निकाल दिया क्योंकि उन्होंने दाढ़ी बढ़ा रखी है. दोस्तों यह एक ऐसा ट्वीट था जिसके बाद देश में कई तरह की बहस हो सकती थी और टि्वटर पर विवाद शुरू हो सकता था हिंदू मुस्लिम के बीच आग लगाई जा सकती थी.

youtube


जी हां दोस्तों यह ट्वीट काफी वायरल होने लगा तरह तरह के लोग इस तरह के कमेंट करने लगे अपना जहर उगलने लगे लेकिन इससे पहले यह बात आगे बढ़ती तो कुछ ऐसा करिश्मा हुआ की आपको जानकर अपने देश पर फाकर होगा कमलप्रीत कौर के इस ट्वीट पर रिप्लाई करने वाले एक शख्स थे जिनका नाम है सैयद अता हसनैन सैयद अता हसनैन ने एक ऐसा ट्वीट किया जिससे ना सिर्फ कंवलप्रीत कौर के ट्वीट को एक करारा जवाब मिला.

youtube


बल्कि उन लोगों को भी एक करारा जवाब मिला जो लोग कमलप्रीत कौर के इस ट्वीट के जरिए नफरत फैलाने की कोशिश कर रहे थे तो आइए आपको बताते हैं सैयद अता हसनैन ने क्या लिखा था सैयद अता हसनैन ने लिखा कि प्लीज इस तरह की बातें करने से पहले आप अपने आप को एजुकेट कीजिए क्योंकि जो आर्मी सर्विसेस है वहां के रूल है कि वहां पर दाढ़ी के साथ काम नहीं किया जा सकता.

google


उनकी एक्टिविटीज का हिस्सा नहीं बन क्योंकि एनसीसी भी आर्मी सर्विसेस का एक हिस्सा है लिहाजा वहां पर भी यही रूल अप्लाई होते हैं और सिर्फ इस नियम से सिर्फ सिखों को छूट दी गई है और उन्होंने लास्ट में लिखा कि अगर आपको इतनी ही मुश्किल आती है तो आप एनसीसी या आर्मी जॉइन ना करें।।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *