भाजपा से क़रीबी बढ़ा रहे पूर्व कांग्रेस नेता ने अचानक मारी पलटी

September 28, 2018 by No Comments

गुजरात के पूर्व मुख्यमंत्री शंकर सिंह वाघेला ने बुधवार को एनडीए सरकार पर हम-ला बोल दिया. यूँ तो वो भाजपा के क़रीब जाते दिख रहे थे लेकिन अचानक उन्होंने ये बात कह दी. शंकर सिंह वाघेला ने आरोप लगाया कि 2014 में भाजपा के नेताओं ने जो जो वादे किए थे वो अब तक पूरे नहीं हुए इस सरकार को 2019 में हर हाल में जानी चाहिए, क्योंकि जो लोगों से वादे किए थे उन्होंने पूरे नहीं किए हैं अभी तक ।

उन्होंने कहा कि ये जनविरोधी सरकार है जिससे पूरे विपक्ष को एक साथ मिलकर चुनाव लड़ना चाहिए, 2019 का लोकसभा चुनाव पीएम VS आम जनता का होगा जिसमे जनता भाजपा को अच्छे से सबक सिखाएगी । शंकर सिंह वाघेला ने कहा कि एनडीए सरकार ने जनता को उल्लू बना दिया, देश की जनता केंद्र सरकार से नाराज है.

सभी पार्टी को एक साथ आकर सरकार को इसे हराना चाहिए, राफेल डील को लेकर हो रहे हंगामे पर शंकर सिंह वाघेला का कहना है कि जो बोफोर्स हुआ था तो उस वक्त वीपी सिंह निकले थे और उनका सब ने समर्थन किया था अब राफेल में क्या निकलेगा यह आप ही लोगों को तय करना है क्योंकि जो उस वक़्त नहीं बोले थे वो अब क्या बोलेंगे ।

वाघेला ने ये भी कहा कि मैं चाहता हूं कि अच्छा विपक्ष बने. सब मिलकर लोकसभा का चुनाव लड़ें. 2019 का चुनाव स्पोर्ट्समैन की तरह लड़ना चाहिए. मैं इतना कह सकता हूं कि 2019 में इनकी सरकार नहीं होगी. शंकर सिंह वाघेला का कहना है कि 2019 में एनडीए को पहले से बहुत कम सीटें मिलेंगी जिससे उसे सरकार बनाना मुश्किल होगा 2019 है ये 2014 नहीं है जनता के हित में सरकार ने कुछ नहीं किया जो वादे किए थे, वो अभी तक तो पूरे नहीं किए. हर चीज को लेकर झूठ बोला जा रहा है. वोटों का बंटवारा नहीं होना चाहिए.

2019 में मोदी के खिलाफ चेहरे पर शंकर सिंह वाघेला का कहना है कि चेहरे तो पहले भी कई बार चुनाव में नहीं थे 1977 में कोई चेहरा नहीं था अपने आप चेहरा बन जाते हैं और बाद में आ जाते हैं जनता का प्रतिनिधित्व करने के लिए एक अच्छा चेहरा चुनने की जरूरत है विपक्ष को ।

अंत में वाघेला ने RSS पर निशाना साधते हुए कहा कि जो लोग सीमा पर जाकर सुरक्षा करने की बात किया करते थे आज खुद सुरक्षा के घेरे में घूम रहे हैं, उन्हें खुद सुरक्षा की जरूरत पड़ रही है तो क्या देश की रक्षा करेंगे ??

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *