फ़टाफ़ट ख़बरें में पढ़िए: लखनऊ में सपा कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने किया लाठीचार्ज.. कुछ और ख़बरें भी

1. समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं पर आज लखनऊ में पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया. सपा कार्यकर्ता लखनऊ मेट्रो के स्टेशन के बाहर दस्तख़त कैंपेन चला रहे थे. समाजवादी पार्टी के छात्र संघठन के लोग इस कैंपेन को चला रहे थे लेकिन पुलिस ने भीड़ जमा होते देख इन पर लाठीचार्ज कर दिया.बताया जा रहा है कि इस लाठीचार्ज में कुछ सपा कार्यकर्ताओं को चोटें भी आयी हैं. सपा कार्यकर्ताओं ने आरोप लगाया कि उन्हें ट्रेन पर बैठने नहीं दिया.

कुछ और ख़बरें
2. केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी के बयान की आलोचना की.उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री किसी एक पार्टी का नहीं होता बल्कि देश का होता है. गडकरी ने कहा कि गौरी लंकेश की हत्या को लेकर उनकी पार्टी की विचारधारा पर लग रहे आरप निराधार हैं.. लॉ एंड आर्डर राज्य सरकार की ज़िम्मेदारी है जो कांग्रेस की है. उल्लेखनीय है कि कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने आज कहा था कि जो भी आरएसएस-भाजपा की विचारधारा के ख़िलाफ़ बोलता है, उस पर दबाव बनाया जाता है, उसे मारा-पीटा जाता है, उस पर हमला किया जाता है और जान से भी मार दिया जाता है.राहुल ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक स्किल्ड हिंदुत्व नेता हैं, उनके शब्दों में दो मतलब होते हैं..उनके बेस के लिए एक होता है और बाक़ी दुनिया के लिए एक.

3. केन्द्रीय मंत्री गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने गौरी लंकेश की हत्या के मामले में कर्णाटक सरकार से रिपोर्ट मांगी है. आज कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्दरमैया ने राज्य के आला पुलिस अधिकारियों के साथ मीटिंग की. मुख्यमंत्री ने कहा कि ये सच है कि ये एक नियोजित क्राइम है, पुलिस इस मामले को देख रही है. उन्होंने बताया कि दो लोगों ने गौरी लंकेश के ख़िलाफ़ फेसबुक पर लिखा था, पुलिस उनसे पूछताछ कर रही है. उन्होंने कहा कि अभी कुछ दिन पहले ही लंकेश उनसे मिली थीं लेकिन उन्होंने किसी ख़तरे के बारे में मुझसे नहीं कहा.

4. एडिटर्स गिल्ड ऑफ़ इंडिया ने भी गौरी लंकेश की हत्या की सख्त शब्दों में निंदा की है. एडिटर्स गिल्ड ने इसे प्रेस की आज़ादी पर हमला बताया.

5. लखनऊ मेट्रो आज पब्लिक के लिए चालु कर दी गयी. पहले ही दिन मगर इसमें तकनीकी दिक्क़त महसूस की गयी. आलमबाग़ स्टेशन के पास हुई इस ख़राबी की वजह से आम लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ा.

[ये फ़टाफ़ट ख़बरें सेक्शन है, इन ख़बरों को विस्तार से पढने के लिए ये ख़बरें वेबसाइट के होम पेज पर जाकर ढूंढ सकते हैं]

Leave a Reply

Your email address will not be published.