गिरिराज ने धमकी भरे लहजे में कहा-‘मुसलमान सोच लें…हिन्दू नाराज़ हो गए तो उनका क्या होगा’

October 22, 2018 by No Comments

इसे हम अपने देश का दुर्भाग्य ही कहेंगे कि चुनाव के क़रीब आते ही राजनीतिक दलों को राम मंदिर याद आने लगता है। विकास की बातें और दूसरे मुद्दे कहीं पीछे छूट जाते हैं। सामने आने लगते है राम मंदिर निर्माण के नाम पर दिये जाने वाले भड़काऊ भाषण। ऐसा ही एक विवादित बयान आया है मोदी सरकार के मंत्री गिरिराज सिंह का। वह अपने भड़काऊ और बयानों के लिए जाने जाते हैं। इस बार उन्होंने धमकी भरे लहजे मे कहा है कि मुसलमान सोच लें ,अगर हिन्दू नाराज़ हो गये तो उनका क्या होगा।

वह बागपत एक कार्यक्रम मे हिस्सा लेने आये थे, जहाँ उन्होंने मुसलमानों पर जमकर हमला बोला। उन्होंने मुसलमानों को नसीहत करते हुए कहा कि वह राम की संतान हैं न कि मुग़लों की।इसलिए मुसलमानों को राम मंदिर निर्माण का विरोध नहीं करना चाहिए।उन्होंने आगे कहा जो लोग राम मंदिर निर्माण का विरोध कर रहे हैं उन्हें आगे आ कर मंदिर निर्माण के पक्ष मे माहौल बनाना चाहिए । उनका कहना था कि मुसलमानों का सर्व धर्म भावना को पालन करना चाहिए।

गिरीराज सिंह ने राम मंदिर मुद्दे की तुलना कैंसर जैसी घातक बीमारी से करते हुए कहा कि यह दूसरी स्टेज पर पहुँच चुका है,अगर अब इसका इलाज नहीं किया गया तो यह एक लाइलाज बीमारी का रूप ले लेगा। उल्लेखनीय है गिरीराज सिंह बागपत मे “जनसंख्या समाधान फाउंडेशन” द्वारा आयोजित एक रेली मे बोल रहे थे। उन्होंने हिन्दुओं की घटती जनसंख्या पर भी अपनी चिंता भी जताई।

उनका मानना है कि प्रदेश मे बीस एसे ज़िले है जहाँ बीस साल बाद हिन्दुओं की आवाज़ बिल्कुल बंद हो जाएगी। उनके आकड़ों के अनुसार 54 ऐसे ज़िले हैं जहाँ हिन्दुओं की आबादी मुसलमानों से काफ़ी कम है। उनको डर है कि अगर यही हाल रहा तो यह संख्या 250 तक पहुँच जाएगी। उन्होंने आगे कहा जो परिवार नियोजन का पालन न करें उससे वोट डालने का हक़ छीन लेना चाहिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *