गोवा में भाजपा के लिए ख़तरे की घंटी तो महाराष्ट्र में…

October 20, 2018 by No Comments

राजनीतिक नब्ज़ को हर हफ्ते ट्रैक करने वाले देश के पहले कार्यक्रम पॉलिटिकल स्टॉक एक्सचेंज (PSE) में गुजरात विधानसभा चुनाव को नौ महीने बीतने के बाद राज्य में अधिकतर लोग विजय रूपाणी को ही मुख्यमंत्री के पद पर बने  रहते देखना चाहते हैं. लोकप्रियता के मामले में रूपाणी अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी और कांग्रेस नेता शक्ति सिंह गोहिल से कहीं आगे हैं.

पाटीदार आंदोलन को लेकर लोग पक्ष में नहीं
गुजरात में पाटीदार आंदोलन को लेकर अधिकतर लोगों की राय इस आंदोलन को आगे जारी रखने के पक्ष में नहीं है. वहीं महाराष्ट्र में ‘अर्बन नक्सल’ केस में पांच वामपंथी विचारकों की गिरफ्तारी से जुड़े राज्य पुलिस के फैसले को 31%प्रतिभागियों ने सही बताया है. 

महाराष्ट्र में भाजपा का जलवा रहेगा बरकरार
बात अगर महाराष्ट्र में भाजपा की करें तो भाजपा की स्थिति महाराष्ट्र में मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस लोकप्रियता के मामले में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और NCP नेता शरद पवार से काफी फासले से आगे हैं. भारतीय जनता पार्टी के लिए यह एक सुखद अनुभूति हो सकती है कि जिस तरीके से किसानों का एक व्यापक आंदोलन महाराष्ट्र में होगा ऐसा लग रहा था कि भाजपा को महाराष्ट्र में बड़ा झटका लग सकता है।

PSE सर्वे के लिए महाराष्ट्र के 48 संसदीय क्षेत्रों में 18,335 प्रतिभागियों ने हिस्सा लिया. 288 सदस्यीय महाराष्ट्र विधानसभा के लिए 2014 में हुए चुनाव में BJP को 122, शिवसेना को 63, कांग्रेस को 42, NCP को 41, बहुजन विकास अगाड़ी और पीजेंट्स एंड वर्कर्स पार्टी को 3-3, AIMIM को 2 और निर्दलीयों को 7 सीटों पर कामयाबी मिली थी.  

ममता बनर्जी, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री

पश्चिम बंगाल और गोवा में BJP के लिए खतरे की घंटी  

महाराष्ट्र के पड़ोसी राज्य गोवा में मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर को PSE सर्वे में 36 फीसदी प्रतिभागियों ने मुख्यमंत्री के तौर पर पहली पसंद बताया. हालांकि उनकी सरकार के कामकाज को लेकर वोटरों का रुख बीजेपी के लिए राज्य में खतरे की घंटी है. इंडिया टुडे-माई-इंडिया PSE सर्वे के मुताबिक 53 फीसदी वोटर ममता बनर्जी को ही मुख्यमंत्री के तौर पर पश्चिम बंगाल की आगे भी कमान संभालते देखना चाहते हैं. लोकप्रियता के मामले में वो अपने निकटतम प्रतिद्वंद्वी बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष दिलीप घोष से कहीं आगे हैं. दिलीप घोष को सिर्फ 12 फीसदी वोटरों ने ही मुख्यमंत्री के तौर पर अपनी पसंद बताया.

नॉर्थ ईस्ट: मेघालय छोड़ सभी राज्यों में मोदी राहुल से आगे
PSE में अरुणाचल प्रदेश, मणिपुर, मेघालय, त्रिपुरा, मिजोरम, नगालैंड और सिक्किम के लोगों की भी राय ली  गई. जहां तक प्रधानमंत्री के लिए पसंद का सवाल है तो इन 7 राज्यों में सिर्फ मेघालय को छोड़कर बाकी सभी राज्यों में नरेंद्र मोदी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से लोकप्रियता में कहीं आगे हैं.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *