“गोबर में कितना भी घी-शक्कर डालो, वो हलवा नहीं बन सकता”

नई दिल्ली-आईपीएस संजीव भट्ट दक्षिणपंथी विचारधारा के पर लगातार कटाक्ष करते रहते हैं. इसी फ़ेहरिस्त में उन्होंने अब ट्वीट किया है कि गोबर में कितना भी घी-शक्कर डालो, वो हलवा नहीं बन सकता.

इसके पहले उन्होंने शहला राशिद के समर्थन में अपना पक्ष रखा. उन्होंने सोशल मीडिया पर टवीट करके शहला राशिद द्वारा रिपब्लिक टीवी के रिपोर्टर को प्रेस क्लब दिल्ली से बाहर निकालने का समर्थन किया.

संजीव भट्ट ने लिखा…“अब अर्नब अपमानित महसूस कर रहे है कि शहला राशिद ने रिपब्लिक टीवी के रिपोर्टर को पब्लिक फोरम पर बेरुखी से बोली और उसे एक शब्द नही बोलने दिया.”

उन्होंने कहा कि अर्नब हमेशा उसको अपमानित करता है और तेज़ आवाज़ में अभद्र तरीके से सामने वाले को बोलने का मौका दिए बिना चिल्लाता रहता है.

संजीव भट्ट ने अर्नब गोस्वामी की शिकायत की गौरी लंकेश को कुतिया बताने वाले निखिल दधीच से भी की,इतना ही नही उन्होंने इन दोनों क्लासिक बैल तक बताया.

बता दे गौरी लंकेश की ह्त्या के बाद दिल्ली प्रेस क्लब में रिपब्लिक टीवी के पत्रकार को शहला राशिद ने जमकर फटकार लगाई थी,शहला राशिद रिपब्लिक टीवी पर गौरी लंकेश की ह्त्या की रिपोर्टिंग से नाराज़ थी.

शहला के इस बर्ताव कि कुछ ऐसे पत्रकारों ने खूब आलोचना की है जो भाजपा के करीबी माने जाते है वही सोसल मीडिया पर इस मामले पर शहला राशिद को भी काफी समर्थन है.

शहला रशीद ने इस मामले पर बोलते हुए कहा कि रिपब्लिक टीवी ने एक घृणा का प्रचार तंत्र चला रखा है वही उन्होंने अपने आलोचकों को याद दिलाया कि पिछले साल उन्होंने जी टीवी के पत्रकार को फूल दिया लेकिन क्या ज़ी टीवी ने घृणा फैलाना कम किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published.