गूगल ने भी मनाया रफ़ी साहब का जन्मदिन

December 24, 2017 by No Comments

मशहूर गायक मुहम्मद रफ़ी के 93वें जन्मदिन के मौक़े पर गूगल ने उनके सम्मान में डूडल बनाया है. रफ़ी साहब को भारतीय उपमहाद्वीप का सबसे महान गायक माना जाता है. इस मौक़े पर हमने कई लोगों से बात की जिसमें सोशल एक्टिविस्ट, आम लोग, पत्रकार और कवि शामिल हैं. लखनऊ की रहने वाली सोशल एक्टिविस्ट सदफ़ जाफ़र कहती हैं कि रफ़ी साहब की मख़मली आवाज़ को कोई स्थान नहीं ले पाया, उनके तमाम गानों में मुझे उनके गाये भजन बेहद पसंद है बृंदावन का कृष्णा कन्हैय्या, राधिके तूने बंसरी चुराई जैसे तमाम और भजन है।

लखनऊ के ही रहने वाले शाह मुहम्मद अफ़ज़ल रफ़ी साहब के बारे में कहते हैं,”संगीत की दुनिया में 24 दिसम्बर 1924 को जन्मा एक सितारा जिसने अपनी आवाज़ से लोगो के दिलो पर हुकूमत की जिनको हम और आप मो रफ़ी के नाम से जानते है आज रफ़ी साहब का 94 वाँ जन्म दिन है मैं रफ़ी साहब सिर्फ फिल्मी दुनिया मे गाने नही गाये बल्कि उन्होंने क़व्वाली ग़ज़ल भजन भी हाथ आज़माया हैं और बहुत ही ज़्यादा कामयाब हुए हैं रफ़ी साहब को कई अवॉर्ड फिल्मी दुनिया की जानिब से नवाजा गया है और हुकूमत की तरफ़ से 1967 में पद्मा श्री अवॉर्ड से नवाज़ा गया, मुझे राफी साहब के गाये हुए सभी नग़मे बहद पसंद हैं. मैं आज आप सभी देश वासियों की जानिब रफ़ी साहब को 94 वों जन्म दिन पे शत शत नमन करता हूँ.”

दिल्ली के रहने वाले दीपांशु गोयल को शा’इरी का शौक़ है. वो रफ़ी साहब के बारे में कहते हैं,”उनकी आवाज़ के अब भी लोग क़ायल हैं, हमारे जैसे कम उम्र के लोग भी उनको पसंद करते हैं. उनकी गायकी कमाल थी और आवाज़ में जादू था. कितने ही लोगों से मिला हूँ जो उनके फ़ैन हैं. जिनको उनका गाया पसंद ना आये मेरी समझ में उन्हें संगीत की ज़रा समझ नहीं. रफ़ी साहब सदा हमारे दिलों और उनके गाये नग़मों में ज़िन्दा रहेंगे.”

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *