हाथ पैर अक्सर होते हैं सु’न्न, तो हो सकता है ये बड़ा कार’ण

February 23, 2021 by No Comments

जब हम किसी भी अवस्था में लगातार कुछ देर तक बैठे रहते हैं तब हमारे पैर सु’न्न हो जाते है, जिसे झु’नझु’नी, झ’नझनाह’ट आदि नाम से जाना जाता है। यह ज़रूरी नही है कि ऐसा सिर्फ एक अवस्था में बै’ठने या ले’टने से ही होता है। हमारे शरीर में ज्यादा झु’नझुनाह’ट का होना सेह’त के लिए अच्छा नही माना जाता है। हाथ-पैर का सु’न्न होना, चुभन होना किसी बीमा’री का संकेत भी हो सकता है। इस तरह के लक्ष’ण थायराइ’ड, डायबि’टीज, स्ट्रो’क जैसी अन्य कई बीमा’रियों में भी देखे जाते हैं।

अगर आप रात में एक ही करव’ट लेकर सो गए हों, जिसके कार’ण पैरों में झु’नझुनाह’ट, सु’न्न और चु’भन जैसा ह’ल्का द’र्द होने पर, पैर का मूवमें’ट नही हो पाता हो, तो आप आपने पै’रों की मा’लिश करें। अगर मा’लिश के बाद भी आ’राम नही मिलता तब बिना किसी दे’री के डॉक्टर की सलाह लें। यह किसी बीमा’री का संके’त हो सकता है। अक्सर ऐसा देखा गया है कि शरीर में ब्ल’ड सर्कुले’शन ठीक से न हो पाने के कार’ण ही झु’नझुनाह’ट होती है। ऐसा किसी अं’दरूनी चो’ट के कार’ण भी होता है।

Numbness
स्लि’प डि’स्क एक ऐसी ही गं’भीर सम’स्या है जिसमें कमर के नीचे से पैर तक का हि’स्सा सु’न्न हो जाता है। जिसके कार’ण व्यक्ति चल फि’र नही पाता। ऐसे में बि’ना किसी दे’री के डॉक्टर को दिखाना चाहिए। न’सों के द’बाव के कारण ही सर्वा’इकल की सम’स्या होती है, जिसके कार’ण हाथ-पैर में झु’नझुनाह’ट होती है। डॉक्टरों के अनुसार आजकल की बिग’ड़ती लाइ’फस्टाइ’ल के कार’ण यह आम सम’स्या बनती जा रही है। ऑफिस में लगातार एक ही पोजि’शन में बैठकर काम करना, लैपटॉप पर देर तक काम करना आदि से भी ये परेशानी हो सकती है।

इसके अलावा भी इसके कई कार’ण है जिसके बारे में हम आपको बताते हैं। वैसे हम आपको ये भी बता दें कि इस तरह की किसी भी परे’शानी होने पर डॉक्टर की सला’ह से ही दवा और व्यायाम करना चाहिए। जो लोग श’राब अधिक मात्रा में पीते है, उनके शरीर की कोशिका तं’त्र कमजो’र हो जाती है जिसके कार’ण उनके हाथ-पैर झु’नझुना’ते हैं। हमारे शरीर में विटामिन की क’मी होने से भी ऐसी शिका’यत देखने को मिलती है, सबसे ज्यादा विटामिन बी12 की क’मी से हाथों में झु’नझुनाह’ट होती है इसलिए सही समय पर इनका इला’ज कराना बहुत ज़’रूरी है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *