“हामिद अंसारी के ख़िलाफ़ ट्रोलिंग साबित करती है कि वो ठीक कह रहे हैं”

नई दिल्ली: अपना कार्यकाल पूरा करते करते उपराष्ट्रपति हामिद अंसारी ने एक टीवी चैनल को एक इंटरव्यू में कहा कि देश में अल्पसंख्यक समाज में डर का माहौल है| उन्होंने राज्यसभा टीवी को दिए इंटरव्यू में कहा कि लिंचिंग और घर वापसी जैसी चीज़ों से देश का माहौल ख़राब हुआ है|

ये बातें उन्होंने कही ही थीं कि सोशल मीडिया पर उनके ख़िलाफ़ ट्रॉल्लिंग शुरू हो गयी| बजाय उनकी बातों को समझने और सोचने के उन्हीं के ऊपर व्यक्तिगत टिप्पणियां होने लगीं| लगातार हो रही ट्रॉल्लिंग का जवाब कुछ अच्छे लोगों ने दिया और कहा कि इस ट्रॉल्लिंग से तो हामिद अंसारी की बात ठीक साबित होती है|

ज़ाहिर सी बात है कि जब आप एक मुस्लिम-उपराष्ट्रपति की चिंताओं को नहीं सुन सकते तो फिर देश में असहिष्णुता तो है ही| इसके बाद भाजपा नेताओं ने भी अंसारी के बयान पर अपना पक्ष रखा| पक्ष रखने में कोई बुराई नहीं लेकिन जो पार्टी सरकार में है अगर वो मोब-लिंचिंग जैसी घटनाओं पे लगाम लगाए तो अपने आप आलोचनाएँ बंद हो जायेंगी|

ये भी एक सोचने की बात है कि हामिद अंसारी जैसे बड़े पद पर बैठे व्यक्ति की बात आप बर्दाश्त नहीं कर पा रहे अगर कोई आम इंसान होता फिर तो आप जाने क्या करते|


https://twitter.com/RanaAyyub/status/895725743258259456

Leave a Reply

Your email address will not be published.