हराम खाने वालों को अल्लाह दौलत ज्यादा क्यूँ देता है? मौलाना तारिक जमील साहब का ये बयान ज़रूर सुने…

January 27, 2019 by No Comments

दोस्तों अस्सलाम वालेकुम व रहमतुल्लाहि व बरकातहू दोस्तों आज हम आपके लिए मौलाना तारिक जमील की एक ऐसी वीडियो लेकर आए हैं जिसमें मौलाना ने हराम और हलाल के बारे में बयान किया है इसमें मौला ने बताया है कि अल्लाह क्यों हराम खाने वालों को ज्यादा दौलत देता है आइए दोस्तों आपको बताते हैं मौलाना ने कहा कि अल्लाह पाक ने कुरान में इरशाद फरमाया कि देखो हलाल और हराम बराबर नहीं होता हलवाई कम होता है और हराम ज्यादा होता है.
तुमको हराम ज्यादा अच्छा लगेगा इस आयत में अल्लाह पाक ने इशारा दिया है कि देखो हलाल थोड़ा रहेगा और हराम ज्यादा रहेगा दोस्तों मौलाना कहते हैं कि शैतान हमे बहकाता रहेगा कि देखो हराम में कितना ऐश आराम है कितनी सुकून की जिंदगी है लेकिन हमें अपने आप को रोकना होगा.

google


दोस्तो अल्लाह पाक ने फरमाया कि हलाल खाना है हराम नहीं खाना हलाल कमाना है हराम नहीं कमाना हलाल थोड़ा होगा हराम ज़ियादा होगा और हलाल में सुकून होगा हरम में सुकून नहीं होगा मौलाना ने लोगों से फरमाया कि लोगों तिब्बेनबवी पढ़ो क्योंकि हमारे नबी ने इसमें तालीम दी है कि क्या खाना चाहिए क्या नहीं खाना चाहिए.
मौलाना ने बताया कि अल्लाह के नबी ने हमें हर एक चीज बताया है कि कौन चीज किसके साथ खानी चाहिए जिससे हमारे नबी दूध के साथ गोश्त या मछली नहीं खाते थे हमारे नबी ने सारी जिंदगी कभी छना हुआ आटा नहीं खाया अल्लाह के नबी ने हमें हर एक चीज की तालीम दी है कि कैसे क्या खाना चाहिए और क्या नहीं खाना चाहिए.

खाने से लेकर सोने तक सब इस्लाम ने बताया जिंदगी में एक एक चीज कैसे करनी है इस्लाम ने सिखाया है क्या सही है क्या गलत है इसकी तालीम दी है दोस्तों इसी के साथ आपको बता दें कि कुरान में हराम खाने वालों की सजा बताई गई है यहां तक कि यह भी कहा गया है कि अगर किसी ने हराम खाया तो उसकी 40 दिन तक दुआ क़ुबूल नहीं होती है, आगे देखें वीडियो में.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *