14 साल जेल में डाल दोगे, बाहर आकर तब भी युवा कहलाऊंगा और अपने अधिकार मांगूगा

November 25, 2017 by No Comments

गुजरात विधानसभा चुनाव को अब बहुत कम समय बाकी रह गया है। बीजेपी राज्य में कल से अपने स्टार प्रचारकों को उतार दिया है। खुद देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इस चुनावी दंगल मे कल से प्रचार करेंगे। ख़ास तौर पर पाटीदारों के इलाकों में प्रचार करने जा रहे हैं। गुजरात में उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल को भाजपा के लिए पाटीदार समुदाय के वोट बटोरने का जिम्मा दिया गया है।

पाटीदारों में आरक्षण की मांग को लेकर चल रहे आंदोलन और अब इसके अगुआ हार्दिक पटेल के कांग्रेस से हाथ मिला लेने के बाद इसको लेकर अनिश्चितता की स्थिति है। ऐसे में उप-मुख्यमंत्री नितिन पटेल के लिए चुनौती और बढ़ गई है, क्योंकि वह इसी समुदाय से आते हैं। हार्दिक द्वारा कांग्रेस के साथ हाथ मिलाने पर उन्होंने कहा है कि एक मूर्ख ने दर्खास्त दी तो दूसरे मूर्ख ने मान ली। उन्होंने कहा कि मूर्खों को कांग्रेस का फॉर्म्युला मंजूर हो गया है हार्दिक को कांग्रेस लॉलीपॉप दे रही है. वह उन्हें आरक्षण का झांसा दे रही है।

इस बीच पाटीदार नेता हार्दिक पटेल ने गुजरात में सत्तारूढ़ बीजेपी पर निशाना साधा है। हार्दिक ने सोशल मीडिया साइट ट्विटर पर लिखा है कि मैं राजनीति करने नहीं अधिकार माँगने बाहर आया हूँ। 23 साल का हूँ ,14 साल जेल में डाल दोगे कोई फ़र्क़ नहीं पड़ता,बाहर आऊँगा तो 37 का हो जाऊँगा फिर भी युवा कह लाउँगा और अधिकार माँगने के लिए काम पर लग जाऊँगा।

इसके साथ हार्दिक ने एक अन्य ट्वीट में EVM का मुद्दा उठाया। इसमें उन्होंने लिखा कि बार बार EVM ही क्यों ख़राब होते हैं।कभी कभी ATM भी ख़राब होते तो जनता का अच्छा हो जाता !!! आपको बता दें की केंद्र ने हार्दिक पटेल को ‘वाई’ श्रेणी की सशस्त्र वीआईपी सुरक्षा प्रदान की है।

आधिकारिक सूत्रों ने बताया कि सीआईएसएफ को पाटीदार नेता की सुरक्षा का जिम्मा दिया गया है। पटेल के साथ करीब आठ कमांडो होंगे। उन्होंने बताया कि उनकी सुरक्षा को खतरे की आशंका है और इसलिए उन्हें सशस्त्र सुरक्षा की जरूरत है।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *