हिमाचल प्रदेश चुनाव में हुई EVM के साथ छेड़छाड़: भूपेंद्र सिंह हुड्डा

November 12, 2017 by No Comments

शिमला: हिमाचल प्रदेश में 9 नवंबर को विधानसभा चुनाव के लिए मतदान हो चुका है। इस सन्दर्भ में हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री और कांग्रेस नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा ने ईवीएम से छेड़छाड़ की जाने की बात कही है। कांग्रेस नेता हुड्डा ने आरोप लगाया है कि ईवीएम मशीन से चुनाव फूलप्रूफ नहीं हुए। चुनाव के दौरान ईवीएम टेंपरिंग हुई है।

गौरतलब है कि हिमाचल प्रदेश में चुनाव के दौरान ईवीएम के साथ वीवीपीएटी मशीनों का भी इस्तेमाल हुआ है। जिसके जरिये बाहर आई पर्ची से पता चलता है कि मतदाता ने किस को वोट दी है। हिमाचल प्रदेश विद्यानसभा चुनाव के नतीजे 18 दिसंबर को घोषित किये जाएंगे। तब तक इन ईवीएम मशीनों को कड़ी सुरक्षा के अंदर रखा जाएगा। ईवीएम की सुरक्षा पर 3 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

यह खर्चा ईवीएम की सुरक्षा के लिए तैनात 2300 जवानों को दिए जाने वाले डेढ़ महीने के वेतन और अन्य भत्ते का है। ईवीएम की सुरक्षा को लेकर लगाए गए सीसीटीवी कैमरे और जवानों पर आने वाले दूसरे अन्य खर्चे को मिला कर इसकी सुरक्षा पर तीन करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। इसके साथ हुड्डा ने उत्तर भारत में बढ़ रहे प्रदूषण का मुद्दा भी उठाया। उन्होंने कहा कि सरकार के साथ-साथ आम जनता को भी प्रदूषण कंट्रोल करने के बारे में सोचना चाहिए।

उन्हें भी इसे कम करने के लिए उपाय करने चाहिए। इसके अलावा राज्य में बढ़ रहे डेंगू को कंट्रोल करने में भी सरकार विफल रही है, क्योंकि स्वास्थ्य मंत्री मानने को तैयार नहीं है कि राज्य में एेसे भी कोई समस्या है। इस दौरान उन्होंने 26 नवंबर को होने वाली जाटों की रैली में शामिल न होने की घोषणा की। उनका कहना है कि अगर जाटों की मांगों के पक्ष सरकार कोई फैसला ले लेती तो इतना बखेड़ा नहीं होता।

वहीँ किसानों के मुद्दे पर सरकार घेरते हुए कहा कि जिस तहत बीजेपी ने महाराष्ट्र में किसानों के कर्ज माफ किए हैं। उनकी तर्ज पर हरियाणा सरकार को किसानों के कर्ज माफ करने के उपाय करने चाहिए।

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *