कमला मिल कंपाउंड हादसा: हेमा मालिनी ने आग के लिए जनसँख्या को बताया ज़िम्मेदार

December 29, 2017 by No Comments

मध्य मुंबई के कमला मिल कंपाउंड के 2 रेस्टोरेंट में कल रात आग लग जाने से 11 महिलाओं समेत 14 लोगों की मौत हो गयी. बताया जा रहा है कि इसमें अधिकतर लोगों की मौत दम घुटने के कारण हुई है. रेस्टोरेंट के मालिक को लापरवाही के इलज़ाम में गिरफ़्तार किया गया है और ग़ैर-इरादतन हत्या का मामला दर्ज किया गया है. पुलिस के मुताबिक़ रेस्टोरेंट में ना तो आग बुझाने के उपकरण ही थे और ना ही कोई और ठीक इंतज़ाम, इसके अलावा इमरजेंसी गेट के पास भी कुछ सामान रखे होने की वजह से वो नहीं खुला.

इस बारे में शिवसेना और भाजपा के बीच आरोप-प्रत्यारोप का दौर शुरू हो गया है. अभी तक इस मामले में BMC ने पाँच अधिकारियों को बर्ख़ास्त कर दिया है. इस बीच भाजपा सांसद हेमा मालिनी ने ऐसा बयान दे दिया है जो पार्टी के लिए मुश्किल भरा हो सकता है. उन्होंने कहा कि अथॉरिटी इजाज़त दे देती हैं, पुलिस तो अच्छे से काम करती है लेकिन जनसँख्या इतनी है.. और शहर इस तेज़ी से बढ़ रहा है, बॉम्बे के एंड पर दूसरा शहर होना चाहिए लेकिन बॉम्बे ही बढ़ता जा रहा है. उन्होंने कहा कि जनसँख्या पर रोक लगनी चाहिए और हर शहर के लिए एक लिमिट होनी चाहिए.

कमला मिल कंपाउंड में लगी आग मारे गए अधिकतर लोग 22 से 30 साल के हैं. हादसे में 12 से अधिक लोग ज़ख़्मी भी हुए हैं. बताया जा रहा है कि आग गुरुवार रात क़रीब 12:30 बजे लगी. आग इस क़दर ख़तरनाक थी कि फ़ायर ब्रिगेड की 8 गाड़ियाँ और 6 वाटर टैंक ने मिलकर काम किया तो 2 घंटे में आग बुझी.

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *